कतर जाकर मेसी और रोनाल्डो को विश्व कप में खेलते देखना चाहते हैं थापा

नई दिल्ली: मिडफील्डर अनिरुद्ध थापा भारत के सबसे चमकते हुए फुटबाल सितारों में से एक हैं। वह मानते हैं कि 2022 में कतर में होने वाला फीफा विश्व कप भारत में इस शानदार खेल के प्रशंसकों को कतर जाकर खेलों के इस महाकुंभ का लुत्फ लेन का बेहतरीन मौका प्रदान करता है।

फीफा विश्व कप का 2022 संस्करण कई मायनों में खास है। एशिया में सिर्फ दूसरी बार विश्व कप का आयोजन हो रहा है। पहली बार साल 2002 में इसका आयोजन दक्षिण कोरिया और जापान की संयुक्त मेजबानी में हुआ था।

हालांकि, इस बार कतर में होने के कारण यह टूर्नामेंट भारतीय फैन्स की पहुंच में है क्योंकि दोनों देशों के बीच आपसी रिश्ते भी काफी अच्छे हैं और दोनों के बीच की दूरी भी अधिक नहीं है।

कतर में बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं और थापा मानते हैं कि यही कारण है कि भारतीयों के लिए कतर की यात्रा करना और विश्व कप का लुत्फ लेना आसान हो गया है। विश्व कप का आयोजन दो साल में होना है।

थापा ने कहा, कतर के साथ हमारे रिश्ते अच्छे हैं और वहां बड़ी संख्या में भारतीय रहते हैं। ऐसे में हमारे लिए कतर जाना और विश्व कप देखना आसान हो गया है। मेरी समझ से यह सम्भव है कि बड़ी संख्या में भारतीय कतर जाएं और 2022 विश्व कप का लुत्फ लें।

रोचक बात यह है कि थापा खुद भी मैच देखने के लिए कतर जाना चाहते हैं। प्रतिभाशाली मिडफील्डर को आशा है कि फुटबाल सम्बंधी प्रतिबद्धता उन्हें कतर जाने से नहीं रोकेगी, जिससे कि वह फुटबाल के दो महानायकों-लियोनेल मेसी और क्रिस्टीयानो रोनाल्डो को अपना अंतिम विश्व कप खेलते हुए देख सकें।

21 नवम्बर 2022 को जब विश्व कप का आगाज होगा तब पुर्तगाली सुपरस्टार रोनाल्डो 37 तथा अर्जेटीना के महान खिलाड़ी मेसी 35 साल के हो चुके होंगे। थापा किसी भी हाल में इन दो लेजेंड्स को इस खेल के सबसे बड़े प्लेटफॉर्म पर देखते हुए मिस नहीं करना चाहते हैं।

थापा ने कहा, अगर मेरी कोई फुटबाल सम्बंधी प्रतिबद्धता नहीं रही तो मैं कतर जाकर जरूर विश्व कप का लुत्फ लेना चाहूंगा। यह मेरा सपना है कि मैं बड़ी टीमों को विश्व कप में अपनी आंखों के सामने खेलते हुए देखूं। साथ ही 2022 विश्व कप में कुछ लेजेंड्स अपना अंतिम विश्व कप खेलेंगे, ऐसे में अगर हालात ने इजाजत दिया तो मैं निश्चित तौर पर कतर जाकर विश्व कप देखना चाहूंगा।

कतर विश्व कप कई मायनों में खास होगा। यहां इनोवेशन और टेक्नोलॉजी का शानदार मिश्रण देखने को मिलेगा और यह सब पहली बार देखने को मिलेगा। कतर ने पहले ही चार आयोजन स्थलों का उद्घाटन कर दिया है और ये सभी वेन्यूज एडवांस्ड कूलिंग टेक जैसे कटिंग एज फीचर्स से लैस हैं। इससे स्टेडियम के अंदर का मौसम नियंत्रित किया जा सकेगा।

खेल के कई लेजेंड्स ने वेन्यूज की सुविधाएं और प्रेक्टिस पिचों को विश्व स्तरीय करार दिया है। थापा भी यही मानते हैं। वह सितम्बर 2019 में भारत तथा कतर के बीच हुए विश्व कप क्वालीफायर मुकाबले में खेल चुके हैं और इस दौरान उन्होंने स्टेडियम के वैभव को करीब से देखा है।

23 साल के थापा ने एशियाई चैम्पियन कतर के खिलाफ शानदार ड्रॉ में अहम भूमिका निभाई थी। वह इसके अलावा कई ऐसे ट्रेनिंग स्थलों पर भी गए हैं, जिनका उपयोग विश्व कप के लिए किया जाना है।

थापा ने कहा, कतर में इंफ्रास्टक्चर बेहद शानदार है। मुझे यह बेहद पसंद आया। स्टेडियम, पिचें सब शानदार हैं और स्मूद हैं। हमने भारत में नहीं बल्कि कतर में एक प्रॉपर फुटबाल स्टेडियम देखा। स्टेडियम का वातावरण उच्च कोटि का था।

थापा, जो कि लीग 1 क्लब एफसी मेट्ज के साथ अभ्यास कर चुके हैं, ने कहा कि यूरोप की तुलना में कतर की सुविधाएं बेहतर हैं।

थापा ने कहा, मैं पूरा यूरोप नहीं घूमा हूं लेकिन मैं जहां भी गया हूं, मसलन फ्रांस, इटली और हॉलैंड वहां की तुलना में कतर की सुविधाएं तुलनात्मक तौर पर विश्व स्तरीय हैं। यहां की सुविधाएं दुनिया में श्रेष्ठ हैं।

Back to top button