झारखंड

मुंबई की सफलता का राज अच्छे खिलाड़ियों का मजबूत कोर ग्रुप: द्रविड़

नई दिल्ली: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि आईपीएल में मुंबई इंडियंस की लगातार सफलता का राज अच्छे खिलाड़ियों का मजबूत कोर ग्रुप है जिसे उसने रिटेन किया है और युवा तथा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के साथ अच्छा मिश्रण बनाया है।

मुंबई ने बीते मंगलवार को दिल्ली कैपिटल्स को मात दे पांचवीं बार आईपीएल-13 का खिताब अपने नाम किया था। वह आईपीएल इतिहास की सबसे सफल टीम है जिसने कुल पांच खिताब जीते हैं।

द्रविड़ ने एक किताब के वर्चुअल लांच पर कहा, मुंबई ने बीते चार-पांच साल में जो किया है वो यह है कि उसने शानदार खिलाड़ियों को कोर ग्रुप को रिटेन किया है और उनको युवा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के साथ उसका एक मिश्रण बनाया है।

उन्होंने कहा, उन्होंने युवा अवस्था में ही जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या को अपने साथ जोड़ा। इसके बाद राहुल चाहर, ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव आए। अनुभवी सीनियर खिलाड़ियों, टी-20 के विश्व स्तर के खिलाड़ियों का कोर ग्रुप बनाना और युवा खिलाड़ियों के साथ उनका संतुलन बनाना यह उनकी सफलता का अहम कारण रहा है। उन्होंने यह काम बेहद अच्छे से किया है।

इस समय राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के निदेशक द्रविड़ ने कहा कि आईपीएल ने प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने का मंच दिया है।

उन्होंने कहा, पहले जब युवा खिलाड़ियों को मौके की जरूरत होती थी तो उन्हें राज्य संघ से ही यह मौका मिलता था और वह अपने राज्य की टीम के लिए रणजी ट्रॉफी ही खेल सकते थे। अब आईपीएल में आप कर्नाटक से होकर पंजाब के लिए खेल सकते हो।

उन्होंने कहा, एक अच्छा उदाहरण है कि अगर आप हरियाणा जैसे राज्य से हो तो, जहां उनके पास कुछ अच्छे स्पिनर- अमित मिश्रा, युजवेंद्र चहल, जयंत यादव हैं। राहुल तेवतिया जैसे खिलाड़ी को टी-20 टीम में कभी मौका नहीं मिलता। पहले की स्थिति में वह अपनी प्रतिभा नहीं दिखा पाते। लेकिन आज राजस्थान रॉयल्स से खेलते हुए उन्हें कोई रोक नहीं सकता।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker