विदेश

लीबिया के त्रिपोली में संघर्ष पर संयुक्त राष्ट्र ने चिंता व्यक्त की

त्रिपोली में घनी आबादी वाले जांजौर इलाके में भारी हथियारों का कथित इस्तेमाल शामिल

त्रिपोली: लीबिया(Libya) में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन(united nations aid mission) ने सशस्त्र समूहों के बीच लीबिया की राजधानी त्रिपोली के पश्चिम में हुई झड़पों के बारे में चिंता व्यक्त की है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ (News Agency Xinhua) की रिपोर्ट के अनुसार, यूएनएसएमआईएल(UNSMIL) ने सोमवार को त्रिपोली में रविवार को हुई झड़पों पर चिंता व्यक्त की।

सशस्त्र संघर्षों के बारे में अपनी गंभीर चिंता व्यक्त की

मिशन ने एक बयान में कहा कि यूएनएसएमआईएल ने 15 मई को सशस्त्र संघर्षों के बारे में अपनी गंभीर चिंता व्यक्त की है, जिसमें अंधाधुंध गोलीबारी और त्रिपोली में घनी आबादी वाले जांजौर इलाके में भारी हथियारों का कथित इस्तेमाल शामिल है।

बयान में कहा गया है कि विभिन्न सशस्त्र समूहों से संबद्ध बलों की मौजूदा लामबंदी से तनाव और संघर्ष का खतरा बढ़ जाता है जो सशस्त्र संघर्ष में बदल सकता है।

मिशन ने लीबिया में सभी पक्षों से अधिकतम संयम बरतने और विवादास्पद मुद्दों को हल करने के लिए बातचीत का उपयोग करने, नागरिकों और बुनियादी ढांचे की रक्षा के लिए अपने दायित्वों को पूरा करने का आह्वान किया।

2011 में दिवंगत नेता मुअम्मर गद्दाफी(Late leader Muammar Gaddafi) की सरकार गिरने के बाद से लीबिया लगातार हिंसा और अशांति का शिकार हो रहा है।