खूंटी में फंदे से झूलकर युवक ने की आत्महत्या

खूंटीः जिले के मेला टांड़ के रहने वाले राजेंद्र भगत के 27 वर्षीय पुत्र गोलू भगत ने गत शनिवार की देर रात अपने घर में ही फंदे से झूलकर आत्महत्या कर ली। रविवार तड़के स्वजनों ने उसे फंदे से झूलते देखा। इसके बाद तुरंत खूंटी पुलिस को घटना की जानकारी दी गई।

सूचना मिलते ही खूंटी थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और फंदे से झूल रहे शव को उतारकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा। पोस्टमार्टम के उपरांत शव स्वजनों को सौंप दिया गया। उसका अंतिम संस्कार रविवार को तजना मुक्तिधाम में कर दिया गया।

जानकारी के अनुसार सिमडेगा जिले के केरसई गांव के मूल निवासी राजेंद्र भगत वर्षों से खूंटी के मेला टांड़ में अपने परिवार के साथ अपने रिश्तेदार के मकान में रह रहे थे।

उनकी ससुराल भी शहर के कर्रा रोड में ही है। जानकारी के अनुसार खूंटी में रहने के दौरान विगत कुछ वर्षों से उसका एकमात्र बेटा गोलू भगत खराब संगत के कारण शराब व अन्य कई प्रकार के नशे का आदी हो गया था।

बेटे के इस व्यवहार से उसके माता-पिता व अन्य स्वजन परेशान रहते थे। इधर, कुछ महीनों से उसके नशे की लत को छुड़ाने के लिए उसके स्वजन उसका इलाज रांची के नशा मुक्ति केंद्र में करा रहे थे।

बताया गया कि दीपावली की रात पर्व मनाने के बाद घर के सभी सदस्य जब सो गए तब देर रात उसने घर में ही साड़ी से पंखे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। एकमात्र बेटे के इस कदम से उसके माता-पिता व अन्य स्वजनों का हाल बेहाल है।

Back to top button