बाढ़ से निपटने को लेकर कैग ने केरल सरकार की आलोचना की

तिरुवनंतपुरम: नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने अपनी ताजा रिपोर्ट में राज्य में आपदा प्रबंधन को लेकर पिनराई विजयन के नेतृत्व वाली केरल सरकार की आलोचना की है।

गुरुवार को विधानसभा में पेश की गई कैग की रिपोर्ट में कहा गया है कि राज्य की जल नीति में बाढ़ से निपटने के लिए तैयारियों की योजना का कोई जिक्र नहीं है।

यह बताता है कि राज्य जल नीति को राष्ट्रीय जल नीति की तर्ज पर संशोधित नहीं किया गया है और राज्य के पास बड़े पैमाने पर बाढ़ से निपटने का तरीका नहीं है।

रिपोर्ट में मौसम की भविष्यवाणी और समय पर उपलब्ध कराई जाने वाली जानकारी के अभाव में भी खामियां पाई गई हैं।

केरल को 2018 में एक सदी में अब तक की सबसे भीषण बाढ़ का सामना करना पड़ा है और अगले साल भी बाढ़ ने भारी तबाही मचाई थी।

हालांकि, विजयन ने अपनी सरकार द्वारा बाढ़ की स्थिति से निपटने के तरीके की सराहना की और अपने चुनाव अभियानों के दौरान इसे तुरुप का इक्का के रूप में इस्तेमाल किया था।

अब, सीएजी की आलोचना के बाद विपक्षी दलों के पास विजयन सरकार को घेरने का एक और मौका मिल गया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button