झारखंड

झारखंड में यहां काम में लापरवाही पर जिले के 22 प्रधानाध्यकों को भेजा गया शोकॉज

बोकारो: जिले के सरकारी स्कूलों में ये हालात हैं कि शिक्षक काम ही नहीं करना चाहते हैं। ऐसी स्थिति को देखते हुए जिला शिक्षा पदाधिकारी (District Education Officer) ने कई प्रधानाध्यापकों (principals) पर कार्रवाई शुरू कर दी है।

जिले के सरकारी हाईस्कूल में नौवीं से लेकर 12वीं कक्षा तक के छात्र-छात्राओं का जाति प्रमाण पत्र (Cast Certificate) नहीं बना पाने को लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी प्रबला खेस (Prabala Khes) ने जिले के 22 सरकारी हाईस्कूल के प्रभारी प्रधानाध्यापकों को शोकॉज (Show Cause) भेजा है।

बार-बार निर्देश देने के बाद भी रुचि नहीं ले रहे

कहा गया है कि इन स्कूलों में अभी भी काफी संख्या में छात्र-छात्राओं का जाति प्रमाण पत्र लंबित है, लेकिन प्रधानाध्यापक बार-बार निर्देश देने के बाद भी रुचि नहीं ले रहे है।

डीईओ (DEO) की ओर से नोटिस देने पर सभी प्रभारी प्रधानाध्यापकों को इस संबंध में वस्तुस्थिति (State of Matter) स्पष्ट करने को कहा।

डीईओ ने बताया कि जिन छात्र-छात्राओं का जाति प्रमाण पत्र नहीं बन पा रहा है, उसके लिए व्यवस्था करने को कहा गया है।

इन स्कूलों में बनी हुई है अव्यवस्था

जिले के 22 सरकारी हाई स्कूलों में प्लस टू उच्च विद्यालय चंदनकियारी, हाई स्कूल बरमसिया, प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय भोजूडीह, उत्क्रमित उच्च विद्यालय कोरिया, जनता उच्च विद्यालय पुंडरू चास, पंचानन राजबाला प्लस टू उच्च विद्यालय सतनपुर, श्री महावीरजी प्लस टू हाई स्कूल बिजुलिया, उत्क्रमित उच्च विद्यालय रानीपोखर, श्रमिक प्लस टू हाई स्कूल तो तुपकाडीह, प्रोजेक्ट बालिका उच्च विद्यालय जैनामोड़, प्लस टू हाई स्कूल दांतु कसमार ,उत्क्रमित प्लस टू हाई स्कूल चांदो पेटरवार, प्लस टू हाई स्कूल दुग्दा चंद्रपुरा, नेहरू उच्च विद्यालय तेलो, रामविलास प्लस टू हाई स्कूल बेरमो, राम रतन हाई स्कूल ढोरी, राजेंद्र उच्च विद्यालय जारंगडीह, भूषण प्लस टू हाई स्कूल नावाडीह, उत्क्रमित उच्च विद्यालय सुरही, उत्क्रमित प्लस टू हाई स्कूल चतरोचट्टी गोमिया, उत्क्रमित हाई स्कूल लावालौंग गोमिया व नेहरू स्मारक उच्च विद्यालय स्वांग गोमिया को नोटिस भेजा गया है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker