झारखंड में यहां फर्जी फूड इंस्पेक्टर धराया, होटलों में कर रहा था छापेमारी

न्यूज़ अरोमा रामगढ़: दिवाली के मौके पर मिठाई का कारोबार बड़े पैमाने पर होता है। इस व्यापार में कोई धांधली ना हो इसके लिए फूड इंस्पेक्टर लगातार मिठाई के होटलों में छापेमारी कर रहे हैं उनकी इस कार्यवाही का नाजायज फायदा अब असामाजिक तत्व और अपराधी किस्म के लोग उठा रहे हैं।

रामगढ़ में बुधवार को होटलों में छापेमारी कर रहे एक फर्जी फूड इंस्पेक्टर को पुलिस ने पकड़ा है इस मामले की पुष्टि करते हुए थाना प्रभारी विद्याशंकर ने बताया कि दो व्यक्ति मिलकर शहर के विभिन्न होटलों में छापेमारी कर रहे थे।

वहां से वे लोग मिठाइयों का सैंपल भी जुड़ा रहे थे जैसे ही उन्हें इस बात की सूचना मिली वे तत्काल सुभाष चौक में होटल पूनम स्वीट्स के पास पहुंचे। वहीं उन्होंने दोनों को धर दबोचा।

जांच के दौरान पता चला कि फर्जी अधिकारी के रूप में घूम रहे बोकारो जिले के पेटरवार कार निवासी बैजनाथ महतो के द्वारा फूड सैंपल इकट्ठा किया जा रहा है। उनके साथ उनका ड्राइवर निवासी जितेंद्र कुमार भी वहां था उन दोनों को हिरासत में लेकर थाने लाया गया है।

उनसे पूछताछ भी की जा रही है उनकी मारुति सुजुकी को भी जब्त् किया गया है।

अंतर्राष्ट्रीय उपभोक्ता कल्याण समिति का दिखा रहे थे कार्ड

फर्जी फूड इंस्पेक्टर के रूप में घूम रहे बैजनाथ महतो ने शहर के प्रिया स्वीट्स, गणेश मिष्ठान भंडार, पूनम स्वीट्स सहित कई होटलों में छापेमारी की थी। वहां से वे लोग फूड सैंपल भी ले रहे थे। होटल मालिकों को उनके द्वारा अंतर्राष्ट्रीय उपभोक्ता कल्याण समिति का रसीद दिया जा रहा था। अपनी पहचान के रूप में वे इसी संस्था का विजिटिंग कार्ड भी दिखा रहे थे। विजिटिंग कार्ड पर बैजनाथ महतो का फोटो भी लगा हुआ है।

एसडीपीओ कर रहे पूरे मामले की जांच

हिरासत में लिए गए फर्जी फूड इंस्पेक्टर के बारे में एसडीपीओ अनुज उरांव जांच कर रहे हैं। एसडीपीओ ने उन दोनों लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि फर्जीवाड़े के मामले में इन लोगों ने अब तक क्या-क्या किया है, उसका भी पता लगाया जा रहा है। बोकारो जिले से रामगढ़ आकर यह अपने गोरखधंधे को अंजाम दे रहे थे।

Back to top button