भारत

पैगम्बर मामले में भारत पर अंतर्राष्ट्रीय साइबर अटैक, 100 से अधिक वेबसाइट हैक

एडीजी ने कहा कि देश में चल रहे सांप्रदायिक तनाव के कारण ही हैकर्स ने वेबसाइट्स को निशाना बनाया

मुंबई: पैगम्बर टिप्पणी विवाद के बाद भारत की लगभग 70 निजी और सरकारी वेबसाइटों पर अंतर्राष्ट्रीय साइबर (International cyber) हमला हुआ है।

बता दें कि देश की कुल 500 वेबसाइट को हैक किया गया है। बीजेपी की निलंबित नेता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर की गई विवादित टिप्पणी के बाद अरब देशों ने भी विरोध दर्ज कराया था और भारत के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन हुए थे।

वहीं अब पैगंबर मामले को लेकर भारत की 70 निजी और सरकारी वेबसाइटों पर अंतर्राष्ट्रीय साइबर अटैक (Cyber Attack) हुआ है।

हैकर्स ने भारत के एक प्रमुख बैंक को भी निशाना बनाने का प्रयास किया था। दुनिया भर के सभी मुस्लिम हैकर्स ने मानवाधिकार संगठनों और एक्टिविस्टों से भारत के खिलाफ अभियान शुरू करने का आह्वान किया।

एडीजी ने कहा कि देश में चल रहे सांप्रदायिक तनाव के कारण ही हैकर्स ने वेबसाइट्स को निशाना बनाया

भारतीय अधिकारियों ने रविवार तक इज़राइल में भारतीय दूतावास की वेबसाइट को बहाल करने में कामयाबी हासिल की।

अच्छी बात यह है कि इस पूरे हैकिंग में अब तक कोई अहम डेटा चोरी नहीं हुआ है। कई पर काम चल रहा है उन्हें भी जल्द बहाल कर लेंगे।

महाराष्ट्र साइबर सेल के ADG ने कहा कि देश में चल रहे सांप्रदायिक तनाव के कारण ही हैकर्स ने वेबसाइट्स (Websites)  को निशाना बनाया हुआ है।

ठाणे पुलिस की भी वेबसाइट हैक

ठाणे पुलिस की भी वेबसाइट हैक होने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने मंगलवार को पत्रकारों को बताया कि महाराष्ट्र साइबर विभाग (Maharashtra Cyber ​​Department) मामले की छानबीन कर रहा है।

उन्होंने कहा कि पिछले दो दिनों में देश में कई वेबसाइट हैक हुए हैं। पुलिस इसे लेकर गंभीर है, बहुत जल्द हैकरों का पता लग जाएगा।

100 से अधिक वेबसाइट हैक हुई

महाराष्ट्र के साइबर विभाग के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मधुकर पांडे ने बताया कि ठाणे पुलिस की वेबसाइट हैक होने के बाद की गई जांच में पता चला है कि 100 से अधिक वेबसाइट हैक हुई, इसमें विश्वविद्यालय, बैंक और पुलिस से संबंधित वेबसाइट हैं।

साइबर हमलावरों का एक समूह मलेशिया का है और दूसरा इंडोनेशिया का है। मधुकर पांडे ने कहा कि हम उन संगठनों के संपर्क में हैं जिनकी वेबसाइट हैक की गई हैं।

जानकारी के अनुसार राज्य के गृह विभाग में ठाणे पुलिस की वेबसाइट हैक (website hack) होने की जानकारी सामने आने के बाद हड़कंप मच गया। वेबसाइट हैक होने के बाद साइबर विभाग को सतर्क कर दिया गया है।

बताया जा रहा है कि हैकरों ने ठाणे पुलिस की वेबसाइट पर दुनिया भर के मुसलमानों से माफी मांगने की चेतावनी देते हुए एक टेक्स्ट पोस्ट किया गया है।

ताजा जानकारी के अनुसार ठाणे पुलिस कमिश्नरेट की वेबसाइट को छह घंटे के बाद बहाल कर दिया गया, लेकिन इनमें से कुछ डेटा गायब पाए गए हैं। मामले की गहन छानबीन जारी है।

भारत सरकार की साइटों के साथ-साथ निजी पोर्टलों को 8 और 12 जून के बीच विरूपित किया गया

हैक्टिविस्ट समूह ड्रैगनफोर्स मलेशिया द्वारा संचालित साइबर अटैक्स में ऑनलाइन प्लेटफार्मों के साथ इज़राइल में भारतीय दूतावास, राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान और भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के ई-पोर्टल को निशाना बनाया है।

हैकर्स ने लगभग 70 वेबसाइटों को हैक कर लिया। यहां तक ​​कि दिल्ली पब्लिक स्कूल, भवन और देश भर के कॉलेजों के अन्य समूहों जैसे प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों को भी नहीं बख्शा। अकेले महाराष्ट्र में 50 से ज्यादा वेबसाइटें प्रभावित पाई गईं।

ऑडियो क्लिप और टेक्स्ट के माध्यम से हैकर्स के समूह ने एक संदेश भेजा जिसमें कहा गया कि तुम्हारे लिए तुम्हारा धर्म है और मेरे लिए मेरा धर्म है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार भारत सरकार की साइटों के साथ-साथ निजी पोर्टलों को 8 और 12 जून के बीच विरूपित किया गया था।

सुरक्षा विशेषज्ञों (Security Experts) ने संकेत दिया कि उसी हैक्टिविस्ट समूह द्वारा जिसके 1300 सदस्य हैं, भारत में एक प्रमुख बैंक को भी भंग करने का प्रयास किया गया था।