रूस में हीरे के अंदर मिला 80 करोड़ साल पुराना फंसा हुआ दूसरा हीरा

मास्‍को: रूस में एक असामान्‍य हीरे के अंदर दूसरा हीरा फंसा हुआ मिला है। माना जाता है कि यह हीरा करीब 80 करोड़ साल पुराना है। इस हीरे को मत्रयोश्‍का हीरा नाम दिया गया है।

यह देखने में बिल्‍कुल रूसी गुड़‍िया मत्रयोश्‍का की तरह से है और इसी वजह से इसका यह नामकरण किया गया है।

इस तरह की कई गुड़‍िया को घटते हुए क्रम में दूसरी गुड़‍िया के अंदर रखा जाता है। बताया जाता है कि यह अद्भुत हीरा 80 करोड़ साल पुराना है।

विशेषज्ञ अभी तक इस बात का पता नहीं लगा सके हैं कि इस आश्‍चर्यजनक हीरे का जन्‍म कैसे हुआ, लेकिन दुनियाभर में हीरे के खनन के इतिहास में अपनी तरह का पहला हीरा है।

रूस के एलरोसा शोध और विकास उद्यम से जुड़े ओलेग कोवलचुक ने कहा कि जहां तक हम जानते हैं कि दुनिया के खनन इतिहास में इस तरह का कोई हीरा नहीं मिला है।

उन्‍होंने कहा कि यह अपने आप में बहुत खास है।

ओलेग ने कहा कि प्रकृति नहीं चाहती है कि कोई खालीपन रहे और इसलिए एक खनिज की जगह दूसरा ले लेता है।

यह अभी तक स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है कि इस असामान्‍य हीरे की कीमत कितनी है।

हीरे को कंपनी के याकूतिया स्थित नयूर्बा खान से निकाला गया है। इस हीरे की संरचना काफी जटिल है और बाहरी हीरे का वजन केवल 0।62 कैरेट है।

वहीं दूसरे हीरे का वजन करीब 0।02 कैरेट है। अंदर फंसा दूसरा हीरा सपाट है। दूसरे हीरे की खोज हीरे की जांच के दौरान हुई।

विशेषज्ञ अब इस हीरे की एक्‍स रे समेत कई तरीके से जांच कर रहे हैं। इस विश्‍लेषण के आधार पर शोधकर्ताओं ने सुझाव दिया है कि अंदर बंद हीरे का पहले विकास हुआ था।

यही नहीं दोनों हीरे के बीच इतनी जगह है कि हवा रह सके।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button