झारखंड : दारू पीने के लिए नहीं दिया पैसा तो पोकलेन में लगा दी आग

दुमका: दारू पीने का रुपया नहीं देने पर बदमाशों ने एक पोकलेन में आग लगा दी। हालांकि इस आगलगी में पोकलेन के कैबिन का कुछ हिस्सा जलकर बेकार हो गया है।

घटना गोपीकांदर थाना क्षेत्र अंतर्गत छतरचुआं और बूढ़ीचापड़ सीमा पर संचालित पत्थर खदान का है। घटना शुक्रवार देर रात की है।

घटना की सूचना पाकर थाना प्रभारी संजय कुल्लू दल-बल के साथ शनिवार सुबह पत्थर खदान पहुंचे। थाना प्रभारी ने बताया कि पोकलेन में आग कुछ बदमाशों ने लगाई है।

यह घटना नक्सली वारदात नहीं है। पुलिस बदमाशों का पहचान कर रही है। उन्होंने बताया कि पत्थर खदान में चार नाईट गार्ड कार्यरत है।

उनसे पूछताछ की जा रही है। नाइट गार्ड ने बताया कि रात करीब एक बजे चाकू हाथ में लेकर आठ युवक खदान पहुंचे। गार्ड ने बताया कि सभी युवक परिचित है।

इससे पूर्व भी सभी खदान में आकर रुपयों का डिमांड और काम की मांग कर चुके हैं। शुक्रवार शाम भी सभी युवकों को खदान के पास देखा गया था।

गार्ड ने बताया कि युवकों ने खदान के पास खड़ी पोकलेन के कैबिन में आग लगाकर जंगल की ओर चले गए।

घटना की सूचना तुरंत खदान संचालक काठीकुंड निवासी रंजन भगत को दिया गया। संचालक घटनास्थल पहुंचकर सहयोगियों के साथ पोकलेन में लगी आग पर काबू पा लिया।

आग को पानी और पत्थर के डस्ट से बुझाया गया। इसके बाद पोकलेन को तिरपाल से ढक दिया गया।

संचालक रंजन भगत ने बताया कि वह सभी युवकों को पहचानते है। वह केस नहीं करेंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button