JPSC भवन पहुंच अभ्यर्थियों ने किया प्रदर्शन, 15 से करेंगे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल

अभ्यर्थियों ने कहा कि यदि परीक्षा रद्द नहीं की गई तो वे 15 नवंबर से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर जाएंगे

रांची: सातवीं JPSC प्रारंभिक परीक्षा में धांधली का आरोप लगाते हुए अभ्यर्थियों ने शुक्रवार को धरना-प्रदर्शन किया। JPSC भवन के समक्ष अभ्यर्थियों ने विरोध किया।

अभ्यर्थियों का आरोप है कि सातवीं JPSC में खुलकर धांधली का मुद्दा सामने आ रहा है। प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम में एक ही सीरियल नंबर क्रमांक वाले कई अभ्यर्थी सफल घोषित हुए हैं। इसे लेकर सवाल उठ रहे हैं।

कई अभ्यर्थियों का कहना है कि सीरियल नंबर से इतने अभ्यर्थियों का चयन नहीं हो सकता।

अभ्यर्थियों ने कहा कि यदि परीक्षा रद्द नहीं की गई तो वे 15 नवंबर से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर जाएंगे। अगर सरकार छात्रों की मांगें नही सुनती और परीक्षा में पारदर्शिता नही रखती है तो वे जोरदार आंदोलन करेंगे।

उल्लेखनीय है कि झारखंड लोकसेवा आयोग की ओर से सातवीं (2017), आठवीं (2018), नौवीं (2019) और 10वीं (2020) की JPSC प्रारंभिक परीक्षा 19 सितंबर 2021 को राज्य के 1102 केंद्रों पर आयोजित की गई थी।

बीते एक नवंबर को JPSC की ओर से रिजल्ट जारी किया गया था। इसमें एक ही सीरिज के कुल 33 विद्यार्थियों का चयन हुआ है।

छात्र संगठनों का कहना है कि सीरियल रोल नंबर से प्रतीत होता है कि एक ही केंद्र के सभी अभ्यर्थियों का चयन हो गया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button