झारखंड

JPSC सिविल सेवा पीटी परीक्षा पेपर लीक मामले पर संजय सेठ ने साधा निशाना, कहा…

JPSC का पर्चा लीक होना और उसके प्रश्नपत्र हल करने को लेकर जो Video सामने आए हैं, वह झारखंड सरकार के मुंह पर करारा तमाचा है।

JPSC Civil Services PT Exam Paper Leaked: JPSC का पर्चा लीक होना और उसके प्रश्नपत्र हल करने को लेकर जो Video सामने आए हैं, वह झारखंड सरकार के मुंह पर करारा तमाचा है।

झारखंड सरकार (Jharkhand Government) ने राज्य के युवाओं के साथ एक बार फिर से क्रूर मजाक किया है। उनके जीवन के साथ खिलवाड़ किया है और इसका जवाब इस राज्य के युवा ही नहीं, हर नागरिक इस भ्रष्ट सरकार को समय आने पर देंगे।

उक्त बातें रांची के सांसद संजय सेठ ने रविवार को पत्रकारों से बातचीत में रांची में कहीं। JPSC पर्चा लीक का वीडियो देखकर सांसद काफी आक्रोशित थे।

सांसद ने कहा कि यह समझ में नहीं आ रहा है कि यह सरकार राज्य की जनता के साथ कैसा मजाक कर रही है। एक तरफ राहुल गांधी युवाओं के रोजगार देने की बात करते हैं। झामुमो का नेतृत्व झारखंडी हितों का दंभ भरता है। राजद के लोग ईमानदारी की कसमें खाते नहीं थकते, उसके बावजूद भ्रष्टाचार का इससे उत्कृष्ट उदाहरण और कुछ नहीं हो सकता।

सेठ ने कहा कि यह तय है कि हेमंत सरकार (Hemant Sarkar) को जिस गैंग के लोग चला रहे थे, इसी गैंग के लोग इस सरकार को भी चला रहे हैं। मतलब सिर्फ चेहरा बदला है, बाकी पूरी व्यवस्थाएं यथावत है। इस सरकार से राज्य के लोगों का कोई उम्मीद नहीं रह गई है।

उन्होंने कहा कि जेपीएससी जैसी महत्वपूर्ण परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक होना और विद्यार्थियों की ओर से मोबाइल निकाल कर उत्तर पुस्तिका भरना, बिहार के जंगल राज की याद कराने वाला है। जब बिहार में लोग परीक्षा हॉल में ही किताब लेकर चले जाते थे। कॉपियां अपने घर ले आते थे और न जाने क्या-क्या करते थे।

सांसद ने कहा कि राज्य की यह सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में डूबी हुई है। भ्रष्टाचारियों को संरक्षण दे रही है। उसके बाद भी यदि केंद्रीय एजेंसी इन पर कार्रवाई करती है तो यह कहते हैं कि यह राजनीतिक करवाई है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker