LPG गैस सिलेंडर के लिए नया नियम, अब साल में मिलेंगे सिर्फ इतने सिलेंडर, 12 से ज्यादा लेने पर सब्सिडी नहीं

News Alert

नई दिल्ली: रसोई गैस सिलेंडर (LPG Gas Cylinder) की कालाबाजारी और जरूरतमंद लोगों तक इसकी पहुंच बनाने समेत अन्य पहलुओं को देखते हुए सरकार ने रसोई गैस सिलेंडर लेने की संख्या में अब फिक्स (Fix) कर दिया है।

अब उपभोक्ताओं को साल में मात्र 15 सिलेंडर ही उपलब्ध कराए जाएंगे। इसमें 12 सिलेंडर फिक्स हैं जो सब्सिडी (Subsidy) वाले होंगे। इससे ज्यादा अब आपको सिलेंडर नहीं मिलेंगे।

जबकि इसके अलावा यदि आप सिलेंडर लेते हैं तो आपको Subsidy नहीं मिलेगी। ऐसे में अब महीने में दो से ज्यादा सिलेंडर आप नहीं ले सकेंगे।

बता दें कि इससे पहले साल भर का कोई कोटा निर्धारित नहीं था और लोग इसका गलत इस्तेमाल कर रहे थे। इससे सरकार पर भी बोझ बढ़ रहा था।

सॉफ्टवेयर में किया गया है बदलाव

रिपोर्ट के मुताबिक, राशनिंग के लिए सॉफ्टवेयर (Software) में बदलाव किया गया है। ये नियम लागू किये जा चुके हैं।

खास बात यह है यह नए नियम इसलिए लागू किए गए हैं, क्योंकि काफी समय से शिकायत मिल रही थी कि घरेलू गैर सब्सिडी की रीफिल (Rifill) कॉमर्शियल (Commercial) से सस्ती होने की वजह से वहां इसका इस्तेमाल ज्यादा होने लगा था। जिसके कारण सिलेंडर पर राशनिंग की गई है।

1 अक्टूबर से LPG की कीमत बढ़ सकती है

एक अक्टूबर को होने वाली कीमतों की समीक्षा में नेचुरल गैस के दाम बढ़ाए जा सकते हैं। गैस की कीमत हर 6 महीने में एक बार सरकार तय करती है।

सरकार यह हर साल 1 अप्रैल और 1 अक्टूबर को करती है। गैस की कीमत इसकी अधिकता वाले देश में चल रही कीमतों पर आधारित होती है।

इसके अलावा सीएनजी (CNG) की कीमत भी बढ़ाई जा सकती हैं। नेचुरल गैस से ही एलपीजी (LPG) और सीएनजी (CNG) बनाई जाती है।

सिलेंडर के इस तरह से दाम

पिछले महीने 19 किलोग्राम के कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर (Commercial LPG Cylinder) की कीमत 36 रुपये घटाकर 1,976.50 रुपये कर दी गई थी।

कमर्शियल एलपीजी सिलेंडर का इस्तेमाल होटल, रेस्टोरेंट और अन्य कमर्शियल काम के लिए किया जाता है। मई के बाद से कमर्शियल एलपीजी कीमत यह चौथी बार कटौती की गई थी।

कुल मिलाकर कीमतों में प्रति सिलेंडर 377.50 रुपये की कमी हुई है। इसके अलावा घरेलू रसोई (Home Kitchen) में इस्तेमाल होने वाली LPG गैस की कीमत में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

हमें Follow करें!