मॉडर्ना का दावा : COVID वैक्सीन 94 फीसदी तक कारगर

न्यूयॉर्क: पिछले 10 दिनों में दूसरी बार अमेरिका में चुनाव के बाद कोविड-19 वैक्सीन पर गेमचेंजर घोषणा हुई है। अमेरिकी फार्मा कंपनी मॉडर्ना ने कोविड वैक्सीन के 94 प्रतिशत प्रभावी होने का दावा किया है।

फाइजर ने ठीक एक सप्ताह पहले 90 फीसदी तक प्रभावी वैक्सीन विकसित करने की घोषणा की थी। अगर अंतिम स्टडी में ये खरे उतरते हैं तो ये दोनों टीके अमेरिकी खाद्य और औषधि प्रशासन के पास आपातकालीन उपयोग की अनुमति के लिए जाएंगे।

ट्रंप के कोरोनोवायरस टास्क फोर्स के एंथनी फौची को उम्मीद है कि ये टीके अगले कुछ महीनों में सब कुछ बदल देंगे।

फाइजर वैक्सीन के अंतिम परिणाम नवंबर के तीसरे सप्ताह आने वाले हैं।

अमेरिका में कोविड के मामले 15 नवंबर तक 1.1 करोड़ को पार कर गए, जिसमें पिछले एक सप्ताह में 10 लाख मामले शामिल हैं। देश में मृत्यु का आंकड़ा दुनिया में सबसे ज्यादा है।

अंतिम गिनती तक ये आंकड़ा 246,000 को पार कर गया था।

डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के वैक्सीन कार्यक्रम के प्रमुख ने संकेत दिया है कि दिसंबर तक करीब 2 करोड़ लोगों को टीका लगाया जा सकता है और उसके बाद हर महीने ढ़ाई से 3 करोड़ लोगों को टीका लगाया जा सकता है।

अमेरिका इस वक्त 6 वैक्सीन पर काम कर रहा है, जिसमें तीन अलग-अलग तकनीकों के आधार पर विकसित किए जा रहे हैं और हर तकनीक के दो उम्मीदवार हैं।

फाइजर और मॉडर्ना के टीके मैसेंजर आरएनए का इस्तेमाल करते हैं।

जॉनसन एंड जॉनसन और एस्ट्राजेनेका लाइव वेक्टर का उपयोग करते हैं, जबकि नोवाक्स और सनोफी/ ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन प्रोटीन प्लेटफॉर्म पर अपने टीके का निर्माण कर रहे हैं।

Back to top button