2015 से 2019 के बीच 6.76 लाख से अधिक लोगों ने भारतीय नागरिकता छोड़ी

नई दिल्ली: मोदी सरकार में गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा को बताया कि साल 2015 से 2019 के बीच 6.76 लाख से अधिक लोगों ने भारतीय नागरिकता छोड़कर दूसरे देशों की नागरिकता ले ली।

राय ने लोकसभा में इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कुल 1,24,99,395 भारतीय नागरिक दूसरे देशों में रह रहे हैं।

मंत्री ने कहा कि 2015 से 2019 के बीच 6.76 लाख से अधिक लोगों ने भारतीय नागरिकता छोड़ी।

गृह मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, साल 2017 में भारतीय नागरिकता छोड़ने वाले लोगों का आंकड़ा 1,27,905 रहा जबकि साल 2019 में 1,36,441 लोगों ने भारतीय नागरिकता छोड़ी।

एक रिपोर्ट के मुताबिक सबसे ज्यादा भारतीयों ने अमेरिका की नागरिकता ली है।

अमेरिका में रहने वाले औसतन 44 फीसदी लोग भारतीय नागरिकता छोड़ देते हैं। जबकि कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में यह 33 फीसदी है।

इसके अलावा ब्रिटेन, यूएई , सऊदी अरब, कुवैत, कतर, सिंगापुर आदि देशों में भी बड़ी संख्या में भारतीय लोग बस रहे हैं।

Back to top button