मुस्लिम समाज में शनिवार को चांद दिखने के साथ हुआ जिल्काद माह का आगाज

अजमेर: मुस्लिम समाज में कैलंडर से जिल्काद माह का आगाज शनिवार रात चांद दिखाई देने के साथ हो गया।

राजस्थान में अजमेर दरगाह शरीफ पर इस मौके पर बड़े पीर साहब की पहाड़ी पर तोप दागी गई तथा परम्परागत तरीके शादियाने बजाकर जिल्काद माह का स्वागत किया गया।

अब यह तय हो गया है कि ख्वाजा साहब की महाना छठी 18 जून को मनाई जायेगी।

राज्य में कोरोनाकाल जन अनुशासन त्रिस्तरीय अनलॉक-2 में सख्ती और छूट के मिलेजुले नियमों के बीच दरगाह से जुड़े लोगों की निगाह अब पूरी तरह दरगाह खुलने पर टिकी है।

यदि ऐसा सम्भव हुआ तो फिर लम्बे अन्तराल के बाद महाना छठी में भीड़ का आलम देखने को मिलेगा ।

दरगाह सूत्रों के अनुसार जिल्काद माह समाप्त होने पर जिलहज माह का आगाज होगा और जिलहज माह में बकरीद मनाएंगे।

ईदुल अजाह चांद से 21 जुलाई को होनी है। ऐसे में कोरोनाकाल के बाद दरगाह में रौनक देखी जा सकेगी।

Back to top button