Ginger Tea पीने वाले लोग हो जाएं सावधान, अधिक अदरक स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक

ज्यादा अदरक स्वास्थ्य पर कर सकता है नकारात्मक असर

लाइफस्टाइल डेस्क: Ginger Tea अधिकांश लोगों को बेहद पसंद होती है। सर्दियों में हर कोई इसकी फरमाइश करता है।

घर से लेकर बाहर तक की अदरक की चाय लोगों को बेहद पसंद आती है। लेकिन क्या आपको मालूम है कि अदरक की चाय का बहुत ज्यादा सेवन हमारे शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है।

People who drink ginger tea should be careful, more ginger is harmful for the body
हालांकि चाय अदरक के अलावा इलाइची वाली ही क्यों न हो, बहुत ज्यादा सेवन सेहत के लिए हानिकारक ही होता है। लेकिन आपको अगर अदरक वाली चाय पसंद है तो इसके फायदें और नुकसान आपको जरूर पता होने चाहिए।

कोई भी व्यक्ति पूरे दिन में पांच ग्राम अदरक का सेवन कर सकका है। लेकिन इससे ज्यादा अदरक स्वास्थ्य पर नकारात्मक असर कर सकता है। अगर आप भी इसके शौकिन है तो थोड़ा शतर्क हो जाएं।

People who drink ginger tea should be careful, more ginger is harmful for the body

ज्यादा अदरक का सेवन ब्लड शुगर का स्तर कम हो सकता है। इसके अलावा पेट में जलन की समस्या भी हो सकती है। डॉक्टरों की मानें तो ज्यादा अदरक के सेवन से कम नींद की समस्या भी पैदा हो सकती है। साथ ही एसिडिटी की समस्या भी हो सकती है। साथ ही ज्यादा अदरक की चाय पेट में ज्यादा गैस बनाती है।

वहीं जिन लोगों को हाई ब्लडप्रेशर या बीपी की शिकायत है तो वो उचित मात्रा में अदरक लेना फायदेमंद होता है।

वहीं जिनका बीपी लो या कम रहता है उन्होंने अदरक जरा सी भी मात्रा में लिया तो उनकी सेहत के लिए बेहद हानिकारक हो सकता है। दरअसर अदरक में खून को पतला कर देने का गुण होता है। ऐसे में बीपी वालों का बीपी और कम हो सकता है।

Ginger Tea पिने वाले लोग हो जाएं सावधान, अधिक अदरक स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक

इसी के साथ अदरक का बहुत ज्यादा सेवन ब्लड शुगर लेवल को भी कम करता बहै।

शुगर के मरीजों को खासकर के इसको इग्नोर करना चाहिए। उन्हें इसके ज्यादा सेवन से बचना चाहिए। इसके सेवन से ब्लड शुगर लेवन अचानक कम हो सकता है। जिससे हाइपो ग्लाइसीमिया की स्थिति पैदा हो सकती है। यदि आप अदरक की चाय पी रहे हैं तो एक कप चाय में ¼ चम्मच अदरक काफी होता है।

इन्हें भी पढ़ें : आखिर Bathroom में ही क्यों होते हैं सबसे ज्यादा Heart Attack, जानें वजह

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button