भारत

रुपये को शतक लगाने से रोकें प्रधानमंत्री: सुप्रिया श्रीनेत

नई दिल्ली: कांग्रेस ने डॉलर के मुकाबले Rupees की गिरावट को लेकर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अब उन्हें रुपये को शतक लगाने से रोक लेना चाहिए।

पार्टी प्रवक्ता Supriya Shrinet  ने यह आरोप भी लगाया कि Rupees में गिरावट ने मोदी सरकार की विफलता का पर्दाफाश कर दिया है।

सुप्रिया ने कटाक्ष करते हुए कहा, ‘‘मोदी जी से एक ही आग्रह है कि रुपये को शतक लगाने से रोक लें।’’

एक साल में यह 642 अरब डॉलर से गिरकर 545.5 अरब डॉलर पर पहुंच गया

अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपये की विनिमय दर मंगलवार को नौ पैसे चढ़कर 81.58 प्रति डॉलर (अस्थायी) पर पहुंच गयी। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा (Foreign Currency) विनिमय बाजार में रुपया 81.45 पर खुला।

कारोबार के दौरान यह 81.30 प्रति Dollar के उच्चतम और 81.64 के निचले स्तर तक गया। अंत में यह पिछले बंद भाव के मुकाबले नौ पैसे चढ़कर 81.58 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

सुप्रिया ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मोदी सरकार (Modi government) ने रुपये को इतिहास में सबसे कमजोर किया और अब एक डॉलर के मुक़ाबले (रुपया) 82 पार करने पर तुला हुआ है। पिछले 12 महीनों में रुपये के मूल्य में 12 प्रतिशत से ज़्यादा की गिरावट आई है।’’

उन्होंने दावा किया, ‘‘ विदेशी मुद्रा भंडार (Foreign Exchange Reserves) पिछले एक महीने में 26 अरब डॉलर कम हुआ। पिछले एक साल में यह 642 अरब डॉलर से गिरकर 545.5 अरब डॉलर पर पहुंच गया। लगातार रुपये के गिरने से महंगाई और बढ़ी, कर्ज की किस्तें भी बढ़ीं।’’

रुपये का मूल्य 58.62 था जो अब बढ़कर करीब 82 रूपये तक पहुंच गया है

उन्होंने प्रधानमंत्री के अतीत के एक बयान का उल्लेख करते हुए कहा, ‘‘मोदी जी की असीम अनुकम्पा (Infinite Compassion) से रुपया निरंतर कमजोर होते हुए इतिहास में सबसे कमज़ोर बन गया है और जो गिरती साख की बात करते थे, ना जाने किस गड्ढे में गोता खा रही आबरू को अब ढूंढ ही नहीं पा रहे हैं।’’

कांग्रेस प्रवक्ता (Congress Spokesperson) के अनुसार, 26 मई, 2014 को जब नरेंद्र मोदी ने पहली बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली तब एक डॉलर के मुक़ाबले रुपये का मूल्य 58.62 था जो अब बढ़कर करीब 82 रूपये तक पहुंच गया है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker