RANCHI : JOB देने के नाम पर कोई लिंक भेजे, तो संभल जायें, इस घटना से लें सबक

आरोप है कि दीपक कुमार सिंह और रोहित कुमार ने अमेजन में पार्ट टाइम जॉब दिलाने के नाम पर अपूर्व विवेक से एक लिंक के माध्यम से पांच लाख 41 हजार 500 रुपये की ठगी की है

रांची: सीआईडी की साइबर थाना पुलिस ने धनबाद से दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इन दोनों पर रांची के रातू थाना क्षेत्र स्थित काठीटांड़ के रहनेवाले अपूर्व विवेक से साइबर ठगी करने का आरोप है।

गिरफ्तार आरोपियों में दीपक कुमार सिंह (मूल रूप से यूपी के बलिया का निवासी) और रोहित कुमार (मूल रूप से बिहार के औरंगाबाद का निवासी) शामिल हैं। दीपक धनबाद के हीरापुर में, जबकि रोहित धनबाद के ही कतरास में किराये के मकान पर रह रहा था।

आरोप है कि दीपक कुमार सिंह और रोहित कुमार ने अमेजन में पार्ट टाइम JOB दिलाने के नाम पर अपूर्व विवेक से एक लिंक के माध्यम से पांच लाख 41 हजार 500 रुपये की ठगी की है।

RANCHI : JOB देने के नाम पर कोई लिंक भेजे, तो संभल जायें, इस घटना से लें सबक

पुलिस ने दोनों आरोपियों के पास से दो मोबाइल फोन बरामद किये गये हैं। आरोप है कि दोनों ने घटना को अंजाम देने के लिए इन्हीं मोबाइल फोन्स का इस्तेमाल किया था।

सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित कर सीआईडी एसपी कार्तिक एस ने बताया कि काठीटांड निवासी अपूर्व विवेक ने आठ सितंबर को साइबर क्राइम थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी थी।

इसमें अपूर्व ने कहा था कि अमेजन में पार्ट टाइम JOB दिलाने के नाम पर उनके साथ साइबर ठगी की गयी है।

प्राथमिकी में कहा गया था कि एसएमएस द्वारा भेजे गये लिंक पर क्लिक करने को कहा गया था, जिस पर क्लिक करने के बाद पांच लाख 41 हजार 500 रुपये की साइबर ठगी कर ली गयी।

प्राथमिकी के आधार पर सीआईडी के साइबर थाना की पुलिस ने तकनीकी छानबीन करने के बाद धनबाद से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button