मणिपुर में कुकी उग्रवादियों के हमले में CRPF के दो जवान शहीद, इसके पहले…

Digital Desk

Kuki Militants Attack in Manipur : शुक्रवार की मध्य रात्रि के बाद शनिवार को 2:15 बजे मणिपुर (Manipur) में विष्णुपुर जिले नारानसेना में कुकी उग्रवादियों (Kuki Militants) के हमले में CRPF बटालियन 128 के दो जवान शहीद हो गए।

Manipur Police के अनुसार, कुकी उग्रवादियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) पर घात लगाकर लगातार हामले किए। इस हमले में दो जवानों (Soldiers) की जान चली गई।

इससे पहले मणिपुर के कांगपोकपी (Kangpokpi) जिले में बीते बुधवार को एक शक्तिशाली विस्फोटक उपकरण (IED) में विस्फोट होने से इंफाल-माओ राजमार्ग का पुल क्षतिग्रस्त हो गया, जिसके कारण राजमार्ग पर वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से रोक दी गई।

पुलिस ने कहा कि इंफाल-माओ राजमार्ग पर आवाजाही पूरी तरह से रोक दी गई और पुल के दोनों ओर लगभग 200 वाहन फंसे हुए हैं।

बम विस्फोट की दूसरी घटना

पुलिस के मुताबिक, विस्फोट (Blast) से पुल में करीब तीन छेद हो गए।

बता दें कि 3 मई 2023 से अलग-अलग समय पर विभिन्न कुकी संगठनों द्वारा राजमार्ग को अवरुद्ध कर दिया गया है और मैतेई लोगों की आवाजाही रोक दी गई थी।

मई 2023 में मणिपुर में संकट शुरू होने के बाद कांगपोकपी में हुआ विस्फोट वाहनों और लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए बम विस्फोट की दूसरी घटना थी।

इसके पहले 21 जून, 2023 को, संदिग्ध कुकी उग्रवादियों ने बिष्णुपुर जिले के क्वाक्टा में एक पुल पर IED विस्फोट किया था, जिसमें तीन लोग घायल हो गए थे।

इस घटना की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने की थी और मुख्य साजिशकर्ता की पहचान सेमिनलुन गंगटे के रूप में की गई थी, जिसने विस्फोट की घटना को अंजाम देने के लिए मोहम्मद नूर हुसैन नामक व्यक्ति के साथ काम किया था।

हमें Follow करें!

x