झारखंड

Ranchi Violence : हिंदपीढ़ी, मौलाना आजाद कॉलोनी और कांटाटोली इलाके के कई घरों में छापेमारी, 25 संदिग्धों को हिरासत में लिया

12 से अधिक संदिग्धों के हिंसा में शामिल होने का दावा किया जा रहा

रांची: मेन रोड हिंसा (Main Road Violence) मामले में उपद्रवियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस ने बुधवार को हिंदपीढ़ी (Hindpidhi) , मौलाना आजाद कॉलोनी (Maulana Azad Colony) और कांटाटोली (Kantatoli) इलाके में कई घरों में छापेमारी की।

इस दौरान पुलिस ने 25 संदिग्धों को हिरासत में लिया। इसमें 12 से अधिक संदिग्धों के हिंसा में शामिल होने का दावा किया जा रहा है।

इन सभी संदिग्धों का CCTV फुटेज से मिलान किया गया है। इसके आधार पर इन सभी को चिन्हित कर कार्रवाई की गई है। हिरासत में लिए गए संदिग्धों से शहर के अलग-अलग थाना में पूछताछ (Inquiry) की जा रही है।

दोषी पर होगी कार्रवाई

इस कार्रवाई के दौरान टीम को स्थानीय लोगों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है। छापेमारी (RAID) के दौरान रांची पुलिस की टीम को स्थानीय लोगों ने CCTV फुटेज और वारंट की मांग की थी।

हालांकि, रांची पुलिस (Ranchi Police) ने स्थानीय लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया और बताया कि इस मामले में किसी भी निर्दोष को नहीं फंसाया जाएगा। जो भी इस मामले में दोषी होंगे उन पर कार्रवाई होगी।

8 से 10 हजार अज्ञात उपद्रवियों पर प्राथमिकी दर्ज

मेन रोड (Main road) में हुई हिंसक मामले में अंचलाधिकारी ने 22 नामजद और 8 से 10 हजार अज्ञात उपद्रवियों पर प्राथमिकी दर्ज कराई है।

मामले को लेकर पुलिस ने अब तक 29 लोगों को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई की गयी है। इसके अलावा सोशल मीडिया (Social media) में आपत्तिजनक पोस्ट और वीडियो वायरल करने के मामले में छह अलग-अलग केस कोतवाली थाने में दर्ज किया गया है।