झारखंड

मतदाता जागरूकता के लिए किए जा रहे एक से बढ़कर एक कार्यक्रम, आप भी जानिए…

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राज्य के सरकारी स्कूलों में भी मतदाता जागरुकता (Voter Awareness) के लिए मतदान से संबंधित रोचक कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं।

Ranchi Voter Awareness Campaign: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर राज्य के सरकारी स्कूलों में भी मतदाता जागरुकता (Voter Awareness) के लिए मतदान से संबंधित रोचक कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं।

स्कूलों में आयोजित होने वाले चेतना सत्रों में भी बच्चों को भारत के विराट लोकतांत्रिक विरासत और इसकी गौरवगाथा के बारे में बताया जा रहा है।

बच्चे इन प्रयासों से लोकतांत्रिक इतिहास और मतदान के महत्त्व को आसानी से समझ पा रहे हैं। इतना ही नहीं वे अपने टोलों, गांवों में भी जागरुकता अभियान चला रहे हैं।

स्कूलों में बनाया गया डेमोक्रेसी रूम

राज्य के सरकारी स्कूलों में छात्रों एवं उनके अभिभावकों को मतदान के लिए प्रेरित करने के लिए ‘लोकतंत्र कक्ष’ बनाया गया है। इस रूम में लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं से जुड़े चित्रों, पेंटिंग्स, Art and Craft, EVM, VVPAT मशीन आदि की प्रतीकात्मक प्रदर्शनी लगाई गयी है। बच्चे इस कक्ष में अभिभावकों के साथ आकर लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को आसानी से समझ सकते हैं।

बच्चे प्रतीकात्मक EVM और वीवीपैट मशीन के माध्यम से अभिभावकों के मन में ईवीएम को लेकर उत्पन्न भ्रम को भी दूर करने की कोशिश कर रहे हैं। इस कक्ष में भारत के लोकतांत्रिक इतिहास के बारे में भी बच्चे जानकारी प्राप्त कर रहे हैं।

रोचक बाल संसद का गठन

विद्यालयों में बाल संसद का गठन किया गया है। इसके माध्यम से स्कूली बच्चे भविष्य में मतदान करने की प्रक्रियाओं को समझ रहे हैं। स्कूल में हाउस कप्तान, Class President का चयन किया जा रहा है।

चुनाव को देखते हुए स्कूल में चुने हुए छात्र प्रतिनिधियों को ‘प्रधानमंत्री, मंत्री व सांसद’ जैसे पद दिए जा रहे हैं, जिससे बच्चे काफी उत्साहित भी नजर आ रहे हैं।

अभिभावक-शिक्षक बैठक का आयोजन

राज्य के विभिन्न सरकारी स्कूलों को अभिभावक शिक्षक बैठक का आयोजन करने के संबंध में निर्देश जारी किया गया है। इस बैठक में शामिल होने वाले अभिभावकों को शिक्षकों, प्राचार्य, एसएमसी सदस्यों द्वारा चुनाव में बढ़-चढ़ कर मतदान करने के लिए प्रेरित एवं जागरूक किया जा रहा है।

विद्यालय द्वारा टोला टैगिंग कर अभिभावकों से संपर्क किया जा रहा है तथा बैठक में अनिवार्य रूप से शामिल होने को कहा गया है। PTM के माध्यम से अभिभावकों को चुनावी तिथियों की जानकारी तो दी ही जा रही है। साथ ही उनकी वोटर पर्ची, मतदाता पहचान पत्र, बूथ संख्या आदि से जुड़ी शंकाओं को भी दूर किया जा रहा है।

लगातार प्रतियोगिताओं का आयोजन

मतदाता जागरुकता के उद्देश्य से सरकारी विद्यालयों में बच्चों के लिए लगातार चुनाव से संबंधित रोचक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। इसमें रंगोली, पेंटिंग, स्लोगन मेकिंग, वाल पेंटिंग, स्पीच आदि प्रतियोगिताएं शामिल हैं।

स्कूली बच्चे लगातार इन प्रतियोगिताओ में भाग लेकर पाठ्येत्तर कौशल को विकसित कर रहे हैं। साथ ही चुनाव को लेकर उनकी दिलचस्पी और उत्साह भी बढ़ रही है। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कई विद्यालयों को Voter Awareness Program के तहत सम्मानित भी किया गया है।

x