बिजनेस

RBI ने इस बार भी नहीं चेंज किया रेपो रेट, महंगाई पर नियंत्रण रखने के उद्देश्य से…

RBI Monetary Policy: RBI ने मुद्रास्फीति (Inflation) को नियंत्रण में रखने और साथ ही अर्थव्यवस्था (Economy) में विकास को गति देने की अपनी नीति के तहत गुरुवार को रेपो दर (Repo Rate) को लगातार छठी बार 6.5 प्रतिशत पर बरकरार रखा।

मौद्रिक नीति समिति (Monetary Policy Committee) के छह में से पांच सदस्यों ने दर निर्णय के पक्ष में मतदान किया।

RBI Governor शक्तिकांत दास ने एक बयान में कहा, मौद्रिक नीति (Monetary Policy) सक्रिय रूप से अवस्फीतिकारी बनी रहनी चाहिए।

घरेलू आर्थिक गतिविधि मजबूत बनी हुई है

दास ने कहा कि घरेलू आर्थिक गतिविधि मजबूत बनी हुई है और विकास की गति अगले वित्तीय वर्ष में भी जारी रहने की उम्मीद है। RBI ने 2024-25 के लिए वास्तविक GDP वृद्धि 7 प्रति‍शत आंकी है।

उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले वर्षों में केंद्र और राज्य सरकारों का कर्ज कम होने की उम्मीद है।

साथ ही, RBI गवर्नर ने बढ़ते कर्ज पर चिंता व्यक्त की, इससे कई देशों में गंभीर चिंता पैदा हो रही है, जो वैश्विक वित्तीय प्रणाली को प्रभावित करेगा।

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker