अप्रैल की तुलना में मई में घटी खुदरा महंगाई दर, खाद्य तेलों के दाम में कमी से…

खाद्य मुद्रास्फीति (Inflation) भी अप्रैल महीने के 3.84 प्रतिशत से घटकर मई में 2.91 प्रतिशत पर आ गई

News Aroma Media

नई दिल्ली : भारत की खुदरा महंगाई दर जिसे उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (CPI) से मापा जाता है, मई के महीने में गिरकर 4.25 प्रतिशत हो गई।

इसका मुख्य कारण खाद्य कीमतों (Food Prices) में गिरावट है। अप्रैल के महीने में यह 4.70 फीसदी थी।

खाद्य मुद्रास्फीति (Inflation) भी अप्रैल महीने के 3.84 प्रतिशत से घटकर मई में 2.91 प्रतिशत पर आ गई।अप्रैल की तुलना में मई में घटी खुदरा महंगाई दर, खाद्य तेलों के दाम में कमी से… Retail inflation decreased in May as compared to April due to reduction in the price of edible oils.

लगातार तीसरा महीना मुद्रास्फीति RBI के टारगेट से नीचे

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, मई 2022 में खुदरा मुद्रास्फीति 7.04 प्रतिशत के उच्च स्तर पर थी, जबकि इस अवधि के दौरान खाद्य मुद्रास्फीति 7.97 प्रतिशत थी।

यह लगातार तीसरा महीना है जब CPI आधारित मुद्रास्फीति RBI के टारगेट से नीचे रही है, जो 2 प्रतिशत से 6 प्रतिशत के बीच है।

अप्रैल की तुलना में मई में अनाज, तेल और वसा, फल, पेय पदार्थों के साथ-साथ कपड़े और जूते की कीमतों में गिरावट आई है।

TAGGED:
Share This Article