समीर वानखेड़े ने अनुसूचित जाति आयोग को सौंपे दस्तावेज

नई दिल्ली: मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के जोनल निदेशक समीर वानखेड़े ने सोमवार को यहां राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष से मुलाकात की और उन्हें अपने दस्तावेज प्रस्तुत किए।

वह शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की ड्रग मामले में गिरफ्तारी के बाद से विवादों में घिरे हैं। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेता नवाब मलिक लगातार उन पर निशाना साधे हुए हैं।

उनका आरोप है कि समीर वानखेड़े मुस्लिम हैं और उन्होंने आरक्षण का लाभ लेने के लिए गलत दस्तावेजों के आधार पर नौकरी पाई है। वहीं केन्द्रीय मंत्री रामदास अठावले ने वानखेड़े का समर्थन करते हुए कहा कि वह मुस्लिम नहींं हैं बल्कि हिन्दू दलित हैं।

अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला का कहना है कि वानखेड़े के दस्तावेजों को महाराष्ट्र सरकार के साथ सत्यापित किया जाएगा। दस्तावेज सही साबित होने पर किसी को भी उनके खिलाफ कार्रवाई का अधिकार नहीं होगा।

समीर वानखेड़े ने आयोग के बाहर पत्रकारों से बातचीत में कहा कि आयोग की ओर से मांगे गए सभी दस्तावेज प्रस्तुत किए हैं। वहीं आयोग ने कहा है कि उनकी शिकायत पर जल्द ही जवाब दिया जाएगा।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button