झारखंड

गढ़वा वन क्षेत्र में बाघ आने की आशंका, लोगों से सतर्कता बरतने के लिए…

गढ़वा: बात सही हो या गलत, अगर आशंका हो जाए तो उसकी सच्चाई जानना जरूरी है और आशंका मिटाने का प्रयास भी होना चाहिए।

इधर कुछ दिनों से यह आशंका जताई जा रही है कि गढ़वा (Garhwa) जिले से सटे छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के वाड्रफनगर, रामानुजगंज व बलरामपुर वन परिक्षेत्र के सिंदूर नदी के पास पिछले दिनों बाघ (Tiger) देखा गया है।

 

 

वन अधिकारियों ने नहीं की है पुष्टि

ऐसे में गढ़वा दक्षिणी वन क्षेत्र (Garhwa Southern Forest Zone) में बाघ के आने की आशंका जताई जा रही है। हालांकि गढ़वा वन क्षेत्र के अधिकारियों ने इस क्षेत्र में बाघ के आने की पुष्टि नहीं की है।

इसके बावजूद लोगों को सतर्कता बरतने व सुरक्षा को लेकर जागरूक करने में वन विभाग जुट गया है। गढ़वा दक्षिणी वन क्षेत्र पदाधिकारी शशि कुमार (Shashi Kumar) ने बताया कि इसकी जानकारी उन्हें भी मिली है। लोगों को सतर्कता बरतने व बचाव को लेकर जागरूक किया जाएगा।

गढ़वा वन क्षेत्र में बाघ आने की आशंका, लोगों से सतर्कता बरतने के लिए… There is a possibility of tiger coming in the Garhwa forest area, asking people to be cautious…

वन क्षेत्र से गुजर रहे लोगों ने बनाया है बाघ का वीडियो

जानकारी के मुताबिक, छत्तीसगढ़ के गुरुघासीदास राष्ट्रीय उद्यान (Gurughasidas National Park) से निकले बाघ के पिछले एक सप्ताह से गढ़वा के सीमावर्ती क्षेत्र में होने की बात कही जा रही है।

हालांकि अभी तक बाघ ने छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती क्षेत्र में आधा दर्जन से अधिक मवेशियों का शिकार किया है। शनिवार की रात बलरामपुर व रामानुजगंज वन परिक्षेत्र के सीमावर्ती ग्राम सेंदुर के मुख्य मार्ग के पास चारपहिया वाहन से गुजर रहे लोगों ने बाघ की तस्वीर भी ली और वीडियो भी बनाया है।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker