लश्कर-ए-तैयबा के हमले में दो पुलिसकर्मी शहीद, तीन नागरिकों की मौत

बारामूला: उत्तर कश्मीर के बारामूला जिले में सोपोर के मुख्य चौक पर शनिवार को लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादियों ने एक पुलिस दल पर हमला कर दिया।

हमले में दो पुलिसकर्मी शहीद हो गये, जबकि तीन नागरिकों की मौत हो गई है। हमले में दो अन्य पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं, जिनकी हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें बेहतर इलाज के लिए श्रीनगर अस्पताल रेफर किया गया है।

सोपोर हमले में शहीद पुलिसकर्मियों की पहचान कॉन्स्टेबल वसीम अहमद और कॉन्स्टेबल शौकत अहमद के रूप में हुई है।

वसीम श्रीनगर के नारबल इलाके रहने वाले थे, जबकि शौकत अहमद बड़गाम के गोरीपोरा निवासी थे। वहीं घायल पुलिसकर्मियों में सब इंस्पेक्टर मुकेश कुमार और एसपीओ दानिश अहमद शामिल हैं।

आतंकी हमले में मारे गए नागरिकों की पहचान बशीर अहमद खान, शौकत अहमद और नईम अहमद खान के रूप में हुई है। वे तीनों सोपोर के रहने वाले थे।

आइजीपी कश्मीर विजय कुमार ने दो जवानों के शहीद होने और तीन स्थानीय नागरिकों की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि अभी भी दो जवान घायल हैं।

आईजी विजय कुमार ने यह भी बताया कि इस हमले के पीछे आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का हाथ है।

जानकारी के अनुसार शनिवार दोपहर सोपोर के मुख्य चौक पर तैनात पुलिस दल पर आतंकवादियों ने अचानक अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी।

उस वक्त पुलिस दल के अलावा मुख्य चौक पर स्थानीय लोग भी मौजूद थे। आतंकवादी ताबड़तोड़ गोलीबारी कर मौके से फरार हो गए।

हमले में चार पुलिसकर्मी और तीन नागरिक सहित सात लोग घायल हो गए। सभी घायलों को तत्काल उपचार के लिए उप-जिला सोपोर ले जाया गया, जहां पहुंचने पर दो पुलिसकर्मी और दो नागरिकों को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया, जबकि दो पुलिसकर्मी और एक नागरिक की हालत गंभीर बनी हुई थी।

इस बीच अस्पातल में कुछ ही देर बाद एक गंभीर रूप से घायल नागरिक की उपचार के दौरान मौत हो गई, जबकि दोनों पुलिसकर्मियों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हेें श्रीनगर अस्पताल भेज दिया गया है।

हमले के तुरंत बाद सुरक्षाबलों ने हमलावर आतंकवादियों की धर-पकड़ के लिए सघन तलाशी अभियान चला रही है।

Back to top button