झारखंड

सबूतों के आधार पर चिन्हित कर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी: DGP नीरज सिन्हा

डीजीपी ने मेन रोड का किया निरीक्षण

रांची: रांची मेन रोड (main road) में दस जून को हुई हिंसक घटनाओं के बाद उपद्रवियों की पड़ताल तेज कर दी गई है।

रविवार देर शाम को DGP नीरज सिन्हा (Neeraj Sinha) ने मेन रोड का निरीक्षण किया। इसके साथ ही उन्होंने घटनास्थल का भी जायजा लिया है। इस दौरान उनके साथ रांची डीआईजी, एसएसपी समेत कई आलाधिकारी मौजूद रहे।

इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में डीजीपी ने कहा कि घटना में शामिल लोगों को सबूतों के आधार पर चिन्हित कर उनपर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

जल्द उनको जेल भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि पूरे घटनाक्रम को लेकर सघन जांच की जा रही है। घटना में जो लोग शामिल थे, उनमें से कई लोगों को चिन्हित कर गिरफ्तारी की गयी है, जबकि बाकियों को पकड़ने के लिए विभिन्न इलाकों में लगातार छापेमारी (RAID) की जा रही है।

क्या है मामला

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पैगम्बर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर मुस्लिम समाज के लोगों ने शुक्रवार को राजधानी के मेन रोड में हिंसक प्रदर्शन किया था।

इसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था। पुलिस ने जब लाठीचार्ज किया तो भीड़ की ओर से पत्थर चलाये गये थे।

पत्थरबाजी में पुलिस के कई जवानों को चोट लगी थी। उसके बाद भीड़ को हटाने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग की थी। इसके बाद ही भीड़ पर काबू पाया जा सका था।

घटना के बाद डेली मार्केट थाना क्षेत्र में कर्फ्यू (Curfew) लगा दिया गया। हिंसक घटना के बाद रांची में इंटरनेट सेवा 33 घंटे तक बंद रही। दुकानें भी बंद रही। शहर के छह थाना क्षेत्र में धारा 144 अभी भी लागू है।