आफरीदी ने उम्र को लेकर सभी को हैरत में डाला

लाहौर : पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहीद आफरीदी ने सोमवार को प्रशंसकों को उनके जन्मदिन पर बधाई देने के लिए धन्यवाद देने के दौरान सभी को उनकी उम्र को लेकर हैरत में डाल दिया।

आफरीदी ने ट्वीट कर कहा कि वह इस साल 44 वर्ष के हो गए हैं जबकि उन्होंने अपनी आत्मकथा में बताया था कि वह 1975 में पैदा हुए थे।

आफरीदी ने ट्वीट कर कहा, आप सभी का मेरे जन्मदिन पर बधाईयां देने के लिए धन्यवाद। मैं आज 44 साल का हो गया। मेरा परिवार और मेरे प्रशंसक मेरी सबसे बड़ी पूंजी हैं।

मुल्तान के साथ जुड़ने का आनंद लिया और मुल्तान सुल्तान्स के सभी प्रशंसकों के लिए विजयी प्रदर्शन करना चाहता हूं।

अप्रैल 2019 में आई आफरीदी की आत्मकथा गेम चेंजर में उन्होंने बताया था कि वह 1980 में नहीं बल्कि 1975 में पैदा हुए थे।

इसका मतलब यह है कि 1996 में श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंदों पर जब उन्होंने शतक जड़ा तो वह 16 नहीं बल्कि 19 साल के थे।

आफरीदी ने अपनी आत्मकथा में कहा, दावा किया जाता है कि मैं उस वक्त 16 साल का था लेकिन मैं 19 वर्ष का था। अधिकारियों से मेरी उम्र को लेकर गलती हुई है।

एक ट्विटर यूजर ने लिखा, 16 वर्ष के आफरीदी ने सबसे तेज शतक जड़ा था।

वह आज 44 साल के हो गए। उनकी किताब के अनुसार वह 46 वर्ष के हैं और विकिपिडिया के मुताबिक वह 41 साल के हैं। जन्मदिन मुबारक लाला।

क्रिकेट सांख्यिकीविद मोहनदास मेनन ने ट्वीट कर कहा, हमें आधिकारिक रुप से आफरीदी की जन्मतीथि एक मार्च 1980 से बदलकर एक मार्च 1977 कर देनी चाहिए।

इसका मतलब यह है कि अफगानिस्तान के उस्मान घनी (17 साल 242 दिन) वनडे में तेजी से शतक जड़ने वाले सबसे युवा खिलाड़ी हुए।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button