64वीं राष्ट्रीय रायफल शूटिंग चैम्पियनशिप-2021 का शुभारंभ

भोपाल: 64वीं राष्ट्रीय रायफल शूटिंग चैम्पियनशिप-2021 का गुरुवार को बिसनखेड़ी (गोरागांव), भोपाल में विधिवत शुभारंभ हो गया।

चैंपियनशिप का शुभारंभ प्रदेश के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस के मुख्य आतिथ्य एवं खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया की अध्यक्षता में हुआ।

खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया और मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस तथा एनआरएआई के पदाधिकारियों ने बैटरी चलित वाहन से शूटिंग अकादमी परिसर का अवलोकन किया।

मुख्य सचिव बैंस ने 50 मीटर रेंज में निशाना साधकर चैंपियनशिप का आधिकारिक शुभारंभ किया। उन्होंने अकादमी की भव्यता की प्रशंसा भी की। साथ ही उन्होंने 25 मीटर, 10 मीटर और शॉटगन रेंज का भी अवलोकन किया।

उन्होंने स्कीट शूटिंग भी की। साथ ही एडमिन बिल्डिंग का भ्रमण कर अधिकारियों से शूटिंग अकादमी के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की। इस दौरान उन्होंने चैंपियनशिप में भागीदारी करने आए खिलाड़ियों और उनके परिजन से भी मुलाकात कर चर्चा की।

चैंपियनशिप का आयोजन खेल और युवा कल्याण विभाग एवं भारतीय राष्ट्रीय रायफल संघ के संयुक्त तत्वावधान में 25 नवंबर से 10 दिसंबर तक किया जा रहा है।

चैंपियनशिप में 10 और 50 मीटर के इवेंट खेले जाएंगे। चैंपियनशिप में देशभर की 41 यूनिट के कुल 3524 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इनमें 6 अर्जुन अवार्डी खिलाड़ी भी शामिल है।

15 वर्षों की मेहनत रंग लाई: खेल मंत्री

उद्घाटन अवसर पर खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने चैंपियनशिप में भागीदारी के लिए पहुंचे सभी खिलाड़ियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और एनआरएआई को धन्यवाद देना चाहती हूं।

हमने पिछले 15 वर्षों से इसके पीछे मेहनत की है और यह अब रंग ला रही है। मुख्यमंत्री ने मुझे हमेशा ही खेलों को बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया है। उनके मार्गदर्शन और सपोर्ट से ही हम यहां तक पहुंच पाए हैं।

मैं भारतीय राष्ट्रीय रायफल एसोसिएशन को धन्यवाद देती हूं कि उन्होंने हमें इस चैंपियनशिप की मेजबानी का दायित्व सौंपा। खेल विभाग इस चैंपियनशिप के लिए पूरी तरह से तैयार है। किसी भी खिलाड़ी को कोई कमी नहीं होने दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि देशभर से आए खिलाड़ियों को अकादमी की इस शूटिंग रेंज में सभी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। हमारी अकादमी का स्वरूप अंतरराष्ट्रीय स्तर का हो चुका है।

उन्होंने खिलाड़ियों से कहा कि हमारी चिंकी यादव, मनीषा कीर, ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर जैसे खिलाड़ी आप भी बन सकते हैं। इसके लिए अपने अंदर एक आग जलाकर रखना होगी।

दुनिया को जीतने के लिए एक जज्बे का होना बेहद जरूरी है। मेरी आप सभी को शुभकामनाएं।

50 एकड़ जमीन पर बनेगा स्पोट्स कॉम्प्लेक्स: मुख्य सचिव

बिशनखेड़ी स्थित शूटिंग रेंज पर मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने शुभारंभ अवसर पर कहा कि शूटिंग अकादमी को देखकर इस बात को समझा जा सकता है कि कमिटमेंट किसे कहते हैं।

मध्यप्रदेश ने खेलों के क्षेत्र में कई उपलब्धियां हासिल की हैं। हमारे खिलाड़ी ओलंपिक में प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। प्रदेश सरकार और खेल विभाग के प्रयासों से आज विश्व स्तरीय शूटिंग रेंज हमारे पास है।

चैंपियनशिप के लिए इतने खिलाड़ियों को एक साथ देखकर खुशी की अनुभूति हो रही है। शूटिंग में हमारे देश के कई निशानेबाज विश्व मंच पर उल्लेखनीय प्रदर्शन कर रहे है।

खेलों से आप जीवन में क्रांति ला सकते हैं। खेल ही है जिनमें हारकर जीतने की कला सीखी जा सकती है। खेल मंत्री के नेतृत्व में मप्र विश्व मंच पर अपना परचम फहरा रहा है यह बड़ी उपलब्धि है।

आप सभी को चैंपियनशिप में अच्छे प्रदर्शन के लिए शुभकामनाएं। इसके साथ ही उन्होंने शूटिंग अकादमी के सामने की लगभग 50 एकड़ जमीन पर अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स बनाए जाने की भी घोषणा की।

इसमें इंडोर फुटबॉल, हॉकी खेलों के साथ स्पोर्ट्स साइंस सेंटर की भी सुविधा होगी।

अकादमी अपने आप में एक मिसाल: सुल्तान सिंह

इस अवसर पर भारतीय राष्ट्रीय रायफल एसोसिएशन के सेक्रेटरी जनरल कुंवर सुल्तान सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश शूटिंग अकादमी अपने आप में एक मिसाल है।

अन्य राज्यों को इसी तर्ज पर शूटिंग रेंज और सुविधाएं विकसित करना चाहिए। इस तरह की सुविधाएं तो विदेशों में भी नहीं मिलती। यह अकादमी शूटिंग के लिए एक निर्धारित डेस्टिनेशन बन गया है।

मप्र शूटिंग अकादमी में अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता का आयोजन किया जा सकता है।

कार्यक्रम में ज्वाइंट सेक्रेटरी जनरल पवन सिंह तथा सेक्रेटरी राजीव भाटिया विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। प्रमुख सचिव खेल दीप्ति गौड़ मुखर्जी तथा खेल संचालक रवि कुमार गुप्ता ने अतिथियों का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया।

इस अवसर पर शूटिंग अकादमी के हाई परफॉर्मेंस कोच मनशेर सिंह और सुमा शिरूर उपस्थित रहे।

खिलाड़ियों ने किया अभ्यास

चैंपियनशिप में पहले दिन खिलाड़ियों ने रजिस्ट्रेशन कराया। इसके बाद उन्होंने शूटिंग रेंज में अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया। चैंपियनशिप में देशभर की 41 यूनिट के 3524 महिला और पुरुष खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं।

रायफल के पुरुष खिलाड़ियों की संख्या 2202 तथा महिला खिलाड़ियों की संख्या 1301 है। चैम्पियनशिप में 18 साल से कम पुरूष खिलाड़ियों की संख्या 706 तथा महिला खिलाड़ियों की संख्या 504 है। मुकाबले प्रतिदिन प्रातः 8.15 से शाम 5.00 बजे तक खेले जाएंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button