झारखंड : रिटायर ट्रैफिक डीएसपी की पत्नी से 22 लाख की ठगी

बोकरो: रिटायर ट्रैफिक डीएसपी मदन मोहन प्रसाद सिन्हा की पत्नी प्रतिमा सहाय ने राम बालक यादव पर 22 लाख 50 हजार ठगने का आरोप जड़ा है।

सिटी थाना पुलिस सोमवार को इस मामले में ओमपुरी सदर हजारीबाग निवासी प्रतिमा की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज कर जांच में जुट गई है।

मदन मोहन सिटी थाना के पूर्व थाना इंचार्ज भी रहे चुके हैं। दर्ज रिपोर्ट में इनकी पत्नी ने बताया है कि साईं मंदिर जाने के दौरान आरोपित से उनकी पहचान हुई।

इन्हें बताया गया कि आरोपित राम बालक एफसीआइ बोकारो में प्रतिनियुक्त सर्किल ऑफिसर के रूप में तैनात हैं। शेखपुर बिहार के रहने वाले हैं।

बताया है कि उनका छोटा पुत्र बिमल कृष्ण सहाय रूहेलखंड मेडिकल कॉलेज बरेली में एमएस की पढ़ाई कर रहा है। बेटे की पढ़ाई के लिए 23 लाख फीस के रूप उन्हें चाहिए था।

वह हजारीबाग में अपनी चार कट्ठा जमीन बेची। इससे 52 लाख रुपये उन्हें मिला। बेटे की फीस के लिए वह 26 लाख रुपये एसबीआइ में फिक्स करवा दीं। पति भी इसी बीच सेवानिवृत हो गए।

इसके बाद वह लोग हजारीबाग शिफ्ट कर गए। एजुकेशन लोन के लिए वह लोग कोरोना काल में बोकारो आए। यहीं पर आरोपित आया और अपने पिता की तबीयत खराब होने की जानकारी दी।

वह छह लाख तीस हजार रुपये कर्ज लिया। बैंक से लोन दिलाने में मदद का भी वह भरोसा दिया। जब वह हजारीबाग लौट गई तो आरोपित ने फोन कर मैनेजर का हवाला देकर कहा कि लोन मिलने में अभी विलंब है।

बेटे को फीस भेज दिया जाएगा। रुपये जमा करने की स्लिप जैसे दिखाई जाएगी लोन के रुपये आपके खाते में चले जाएंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button