झारखंड के 7 जिलों में नशे के कारोबार से जुड़े 366 स्थल चिह्नित, ये हॉट स्पॉट अब…

Digital Desk

Drug Trade in Jharkhand : झारखंड पुलिस (Jharkhand Police) में नशे के कारोबार (Drug Trade) पर नकेल कसने का पुख्ता प्लान तैयार किया है।

पुलिस ने राज्य के सात जिलों- खूंटी, गुमला, पूर्वी सिंहभूम, सरायकेला, हजारीबाग, चतरा व लातेहार में नशे के कारोबार से जुड़े 366 स्थलों को चिह्नित किया है।

नशे के उपभोग, विक्रय और निर्माण/उत्पाद केंद्र के रूप में चर्चित इन स्थलों को पुलिस ने ‘हॉट स्पॉट’ (Hot Spot) की संज्ञा दी है।

खूंटी जिला नशे के कारोबार में टॉपर

पुलिस के आंकड़ों के अनुसार, खूंटी (Khunti) ऐसा जिला है, जहां सबसे अधिक 296 स्थल नशे के उत्पाद के लिए पूरे राज्य में चर्चित हैं।

लातेहार (Latehar) जिले में सबसे अधिक 106 लोग अभी नशे के कारोबार में शामिल हैं।

पूर्वी सिंहभूम जिले में सबसे अधिक 16 हॉट स्पॉट हैं, जहां पर नशीले पदार्थ की बिक्री होती है। चिह्नित हॉट स्पॉट पर कार्रवाई के लिए CID मुख्यालय के स्तर से एक्शन प्लान भी तैयार किया गया है।

अब CID मुख्यालय ने संबंधित जिलों के एसपी को निर्देश दिया है कि चिह्नित हॉट स्पॉट पर पुलिस विशेष निगरानी रखे। समय-समय पर छापेमारी अभियान चलाया जाए।

बच नहीं पाएंगे नशे के सौदागर

बता दें कि Jharkhand में नशे के सौदागरों पर निगरानी बढ़ायी जा रही है।

इसके तहत नौ जिलों की पुलिस ने मिल कर 205 नशे के सौदागरों के खिलाफ डोसियर तैयार किया है्।

चतरा जिला की पुलिस ने सबसे अधिक 177 नशे के सौदागरों के खिलाफ डोसियर खोला है।

संबंधित जिलों के SP ने इससे संबंधित आंकड़ा तैयार कर पुलिस मुख्यालय को भेज दिया है।

दूसरी ओर 29 नशे के सौदागरों के खिलाफ पिट अधिनियम के तहत जिलाबदर की कार्रवाई के लिए नया प्रस्ताव भी तैयार है।

हमें Follow करें!

x