J&K के पूर्व गवर्नर सत्यपाल मलिक के गांव में अचानक CBI ने शुरू कर दी रेड, फिर…

News Aroma Desk

J&K Governor Satyapal Malik: मोदी सरकार (Modi Government) के विरोध में बोलने वाले किसी भी शख्स को कब सरकारी एजेंसियां अपने निशाने पर ले लें, यह कहा नहीं जा सकता।

Jammu and Kashmir के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक के बागपत जनपद स्थित पैतृक गांव हिसावदा में गुरुवार सुबह गाजियाबाद से CBI की टीम ने छापेमारी की। यहां तीन घंटे की जांच पड़ताल के बाद टीम वापस लौट गई।

बताया जा रहा है कि टीम को कोई संदिग्ध दस्तावेज या रिकॉर्ड नहीं मिला है। वहीं टीम में स्थानीय पुलिस समेत पांच सदस्य शामिल रहे।

बताया जाता है कि हिसावदा में सत्यपाल मलिक की केवल एक पुरानी हवेली है, जो जर्जर हालत में ही है। वहां CBI की टीम ने सत्यपाल मलिक के परिवार के सतबीर मलिक उर्फ हिटलर के घर पहुंचकर बातचीत की। बताया गया कि टीम उनसे सत्यपाल मलिक की संपत्ति से जुड़ी व अन्य जानकारी ली।

CBI टीम के साथ स्थानीय पुलिस भी मौजूद रही और इस दौरान किसी के भी अंदर जाने व बाहर आने पर रोक लगा दी गई। तकरीबन तीन घंटे बाद टीम के सदस्य वापस लौट गए।

दरअसल, CBI Jammu-Kashmir की कीरू जल विद्युत परियोजना में रिश्वतखोरी के मामले में कई शहरों में ठिकानों पर छापे मारे। परियोजना के लोक निर्माण कार्य के लिए 2,200 करोड़ रुपये का ठेका दिया गया था, जिसके खिलाफ राज्य के तत्कालीन राज्यपाल Satyapal Malik ने आवाज उठाई थी। सत्यपाल मलिक ने दो परियोजनाओं को मंजूरी के एवज में 300 करोड़ रुपये की रिश्वत की पेशकश की शिकायत की थी।

हमें Follow करें!

x