भारत

हेल्थी ड्रिंक के रूप में जाने जाने वाला Horlicks अब नहीं रहा Healthy Drink, जानिए वजह

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जिसे आप अब तक Healthy Drink समझ रहे थे वो Horlicks अब 'हेल्दी ड्रिंक' नहीं रह गई है।

Horlicks Remove from Healthy Drink : गांव हो या शहर अपने बच्चों को Healthy बनाने के लिए अधिकतर मां बच्चों को हेल्थी ड्रिंक के रूप में Horlicks देती है।

लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जिसे आप अब तक Healthy Drink समझ रहे थे वो Horlicks अब ‘हेल्दी ड्रिंक’ नहीं रह गई है।

भारत सरकार के आदेश के बाद इसकी पैरेंट कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर (Hindustan Unilever) ने कैटेगरी (Category) बदल दी है और इससे ‘हेल्दी’ का लेबल हटा दिया है।

अब इसकी कैटेगरी का नाम बदलकर ‘फंक्शनल न्यूट्रिशनल ड्रिंक्स’ (FND) कर दिया गया है।

यह कैटेगरी ज्यादा सटीक

Horlicks और Boost जैसी ड्रिंक्स हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (HUL) की कंपनी के प्रोडक्ट हैं।

इससे पहले वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने कंपनियों को अपने प्रोडक्ट्स से हेल्दी ड्रिंक कैटेगरी का नाम हटाने का निर्देश दिए थे, जिसके बाद यह कदम उठाया गया है।

24 अप्रैल को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान HUL के मुख्य वित्तीय अधिकारी रितेश तिवारी ने घोषणा करते हुए कहा कि यह बदलाव हमारे प्रोडक्ट की कैटेगरी (Category) को ज्यादा सटीक और पारदर्शिता प्रदान करेगा।

इस वजह से बदलनी पड़ी कैटेगरी

अधिकतर लोगों के दिमाग में आ रहा होगा कि आखिर यह कैटेगरी क्यों बदली गई।

दरअसल, फूड फार्मर नामक एक सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर ने लोगों का Bornvita में हाई शुगर होने की तरफ ध्यान आकर्षित किया था।

इसके बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (FASSAI) को जांच का आदेश दिया था, जिसके बाद कंपनियों को अपने प्रोडक्ट की कैटेगरी बदलनी पड़ी।

HUL के अनुसार, ‘फंक्शनल न्यूट्रिशनल ड्रिंक्स’ श्रेणी का मतलब प्रोटीन और कई पोषक तत्वों की कमी की जरूरतों को पूरा करना है। FND को किसी भी नॉन-अल्कोहॉलिक ड्रिंक के रूप में परिभाषित किया जा सकता है।

x