झारखंड

झारखंड : ज्योति अग्रवाल हत्याकांड से उठा पर्दा, पति ने सुपारी देकर करवाई थी पत्नी की हत्या

सरायकेला-खरसावां पुलिस ने ज्योति अग्रवाल हत्याकांड (Agarwal Murder Case) की गुत्थी सुलझा ली है।

Jyoti Hatya Kand: सरायकेला-खरसावां पुलिस ने ज्योति अग्रवाल हत्याकांड (Agarwal Murder Case) की गुत्थी सुलझा ली है।

पुलिस ने मामले में ज्योति के पति रवि अग्रवाल और तीन बदमाशों को गिरफ्तार (Arrest) किया है। रवि अग्रवाल ने ही अपनी पत्नी ज्योति की हत्या सुपारी देकर करवाई थी।

सरायकेला के SP मनीष टोप्पो ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत में बताया कि बीते शुक्रवार को चांडिल थाना अंतर्गत कांदरबेड़ा एवं वेव International Hotel के बीच NH-33 पर ज्योति अग्रवाल की अपराधियों ने उस वक्त हत्या कर दी थी जब वह अपने पति रवि अग्रवाल और बच्चों के साथ पंजाब होटल (Punjab Hotel) में खाना खाकर वापस लौट रही थीं।

SP ने बताया कि ज्योति अग्रवाल के पिता प्रेमचंद अग्रवाल ने लिखित आवेदन दिया था, जिसमें उन्होंने अपने दामाद रवि अग्रवाल के विरुद्ध षड्यंत्र के तहत उनकी बेटी की गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाया था।

इसके बाद चांडिल SDPO के नेतृत्व में एक SIT का गठन किया गया था। टीम ने तकनीकी साक्ष्य के आधार पर अनुसंधान के क्रम में पाया कि ज्योति और रवि के बीच शादी के बाद से ही अनबन चल रही थी। आए दिन दोनों के बीच लड़ाई-झगड़ा होता था।

जांच में पाया कि रवि अग्रवाल ने 16 लाख रुपये में मुकेश मिश्रा नाम के व्यक्ति और उसके दो साथियों को सुपारी देकर अपनी पत्नी को जान मारने की योजना बनाई।

SP ने बताया कि योजना के अनुसार आरोपित रवि पूर्व में दो बार विफल हो चुका था, लेकिन 29 मार्च को निर्धारित योजना के अनुसार वह पत्नी ज्योति तथा बच्चों के साथ बालिगुमा स्थित मिनी पंजाब होटल से खाना खाकर लौट रहा था।

रास्ते में चांडिल थाना अंतर्गत कांदर बेड़ा एवं वेव International Hotel के बीच एनएच 30 के किनारे उल्टी करने का बहाना बनाकर कार खड़ी कर दी।

इसके तुरंत बाद मुकेश मिश्रा अपने साथियों के साथ वहां पहुंचा और ज्योति अग्रवाल को सुनियोजित तरीके से कनपटी पर बंदूक से गोली मार कर हत्या कर दी।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker