जमीन घोटाले में JMM नेता अंतु तिर्की सहित 10 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल

Digital Desk

Chargesheet on Land Scam : शुक्रवार को एनफोर्समेंट डायरेक्टरेट (ED) ने पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) से जुड़े जमीन मामले में JMM नेता अंतु तिर्की (Antu Tirkey) समेत 10 आरोपियों के खिलाफ कोर्ट में चार्जशीट (Charge Sheet) दाखिल की।

इसमें फर्जी दस्तावेज बनाकर जमीन हड़पने की बात कही गई है।

आरोपियों में अंतु के अलावा राजस्व विभाग का कर्मचारी मनोज कुमार यादव, कोलकाता के रजिस्ट्रार ऑफ एश्योरेंस के दो कर्मचारी तापस घोष, संजीत कुमार, हजारीबाग कोर्ट में डीड राइटर मो इरशाद, प्रिय रंजन सहाय, विपिन सिंह, इरशाद अख्तर, अफसर अली, सद्दाम हुसैन शामिल हैं।

30 मार्च को दाखिल की गई थी पहली चार्जशीट

गौरतलब है कि कि इस मामले में ED ने पहली चार्जशीट 30 मार्च को दाखिल की थी। तब पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और बड़गाईं अंचल के गिरफ्तार राजस्व उपनिरीक्षक भानु प्रताप प्रसाद पर आरोपों से जुड़ी रिपोर्ट ED कोर्ट में प्रस्तुत की थी।

इस मामले में 9 आरोपियों को गिरफ्तार किया था, जबकि एक आरोपी मनोज कुमार यादव को गिरफ्तार दिखाते हुए चार्जशीट में आरोपी बनाया था।

ED ने चार्जशीट में सिंडिकेट सदस्यों के पास पैसे के लेनदेन के साक्ष्य मिलने की भी बात कही थी।

13 अप्रैल 2023 को हुई थी छापेमारी

ED ने जमीन की गड़बड़ी से जुड़े मामले में 13 अप्रैल 2023 को छापेमारी (Raid) की थी। तब सद्दाम हुसैन के यहां डीड 3985/1940 मिले थे। जांच में यह बात सामने आई थी कि 1940 के फर्जी डीड के सहारे 6.34 एकड़ जमीन के पेपर बनाए गए।

इस डीड के प्लॉट नंबर 989 के तहत आने वाली 84 डिसमिल और प्लॉट नंबर 996 के तहत आने वाली 32 डिसमिल जमीन पूर्व सीएम के कथित कब्जे वाली 8.86 एकड़ जमीन का हिस्सा हैं।

ED की जांच में यह बात सामने आई है कि बड़गाईं में हेमंत सोरेन के कथित कब्जे वाली 8.86 एकड़ जमीन के दो प्लॉट के फर्जी दस्तावेज सिंडिकेट ने बनाए थे। फॉरेंसिक रिपोर्ट में इसकी पुष्टि भी हो चुकी है।

हमें Follow करें!