टीकाकरण को लेकर किसी भी अफवाह पर न दें ध्यान, सरकार के गाइडलाइन का सख्ती से करें अनुपालन: जटाशंकर चौधरी

मेदिनीनगर: जिला आयुक्त जटाशंकर चौधरी एवं डीआईजी राजकुमार लकड़ा ने बुधवार को अंतर्राज्यीय एवं अंतरजिला चेकपोस्ट मनातू का निरीक्षण किया।

साथ ही मनातू के करमाही गांव पहुंचे और जायजा लिया। करमाही बिहार राज्य की सीमा है।

यह गांव बिहार के गया जिले के सलईया गांव से सटा है। इसके अलावा जैप-8 के मसुरिया पीकेट का भी अवलोकन किया।

चेकपोस्ट का जायजा लेने के क्रम में आयुक्त ने कहा कि चेक पोष्ट पर विशेष चौकसी बरतना आवश्यक है, ताकि संक्रमण से लोगों को बचाया जा सके।

उन्होंने कहा कि चेकपोस्ट पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं पुलिस बलों की सख्ती से संक्रमण के खतरे से बचा जा सकता है।

आयुक्त ने चेकपोस्ट पर पूरी सख्ती बरतते हुए दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों का चेकपोस्ट पर ही कोविड जांच करने का निर्देश दिया।

आयुक्त ने आमजनों से भी कोविड-19 से बचाव को लेकर टीकाकरण करने, संक्रमण से बचने के लिए एहतियायत बरतते हुए मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग रखने, सैनिटाइजर या साबुन-पानी से हाथों की सफाई करते रहने, भीड़ नहीं लगाने एवं अन्य एहतियायत बरतने की अपील की।

आयुक्त ने टीकाकरण को लेकर किसी अफवाह या अंधविश्वास में नहीं पड़ने की बातें कही है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण सुरक्षित है। टीका लेने से संक्रमण का खतरा कम रहता है।

डीआईजी ने कहा कि राज्य सरकार के गाइडलाइन का सभी सख्ती से अनुपालन करना सुनिश्चित करें।

जिला, प्रमंडलवासियों एवं स्थानीय व्यक्ति को संक्रमण से बचाना चेकपोस्ट पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी एवं जवानों की ज्यादा जिम्मेदारी है।

वे पूरी मुस्तैदी से कर्तव्य पालन का निदेश दिया। उन्होंने राज्य सरकार के गाइडलाइन का सख्ती से अनुपालन कर लोगों को संक्रमण से बचाव का निदेश दिया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button