कोरोना काल में हेमंत सरकार ने जनता के 42 लाख रुपये खुद क्रिकेट खेलने में कर दिये खर्च

यह सब जानकारी सूचना का अधिकार अधिनियम (RTI Act) के तहत मांगी गयी सूचना के जवाब में दी गयी है

रांची: झारखंड सरकार ने कोरोना काल में जनता के 42 लाख रुपये अपने खेलने में खर्च कर दिये।

इनमें से 33 लाख रुपये तो सिर्फ जूता-मोजा, टी-शर्ट, ट्रैक सूट, बैग और किट खरीदने में ही खर्च कर दिये। खेलते-खेलते भूख लगी, तो खाने-पीने पर चार लाख रुपये खर्च कर दिये।

इन सबका आनंद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और कई विधायकों समेत पत्रकारों ने भी लिया है। यह सब जानकारी सूचना का अधिकार अधिनियम (RTI Act) के तहत मांगी गयी सूचना के जवाब में दी गयी है। यह जवाब झारखंड सरकार के पर्यनटन, कला, युवा एवं खेलकूद विभाग ने दिये हैं।

दरअसल, कोरोना काल के दौरान मार्च महीने में झारखंड के पर्यटन, कला, युवा एवं खेलकूद विभाग की ओर से मैत्री क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया था। एक RTI के जवाब में विभाग ने जानकारी दी है कि विभाग ने इस मैत्री क्रिकेट मैच के आयोजन में 42 लाख रुपये खर्च किये हैं।

इस मैत्री क्रिकेट मैच में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ-साथ कई विधायक भी शामिल हुए थे।

विभाग ने RTI में दिये अपने जवाब में बताया है कि रांची के धुर्वा स्थित JSCA स्टेडियम में CM-11 और स्पीकर-11 के बीच मैत्री क्रिकेट मैच खेला गया।

इस मैच में 30 लाख 85 हजार 616 रुपये खर्च किये गये हैं। वहीं, रांची के ही बिरसा मुंडा एथलेटिक्स स्टेडियम में CM-11 और पत्रकार-11 के बीच मैत्री क्रिकेट मैच खेला गया, जिसमें विभाग ने 11 लाख 33 हजार 636 रुपये खर्च किये। हालांकि, बिल का भुगतान अभी कैबिनेट में लंबित पड़ा है।

नाम नहीं छापने की शर्त पर खेल विभाग के एक पदाधिकारी ने बताया कि इस मैत्री क्रिकेट मैच के आयोजन पर हुआ सारा खर्च बिना टेंडर के किया गया था। इसलिए, विभागीय मंत्री की सहमति मिलने के बाद इसका बिल कैबिनेट के पास भेजा गया है। कैबिनेट से अनुमोदन मिलते ही बिल का भुगतान कर दिया जायेगा।

विभाग ने RTI आवेदन के जवाब में सूचना दी है कि टेनिस बॉल से हुए इन दोनों मैचों के आयोजन के लिए विभाग की तरफ से 33 लाख रुपये का किट खरीदा गया। JSCA स्टेडियम में CM-11 और स्पीकर-11 के बीच खेले गये मैच के लिए लगभग 24 लाख रुपये का किट खरीदा गया। वहीं, बिरसा मुंडा एथलेटिक्स स्टेडियम में CM-11 और पत्रकार-11 के बीच खेले गये मैच के लिए नौ लाख रुपये का किट खरीदा गया। इस किट में ट्रैक सूट, जूता-मोजा, टी-शर्ट, किट और बैग शामिल थे।

RTI के जवाब में मिले आंकड़ों के मुताबिक, इन दोनों मैचों के आयोजन में खाने पर चार लाख रुपये खर्च किये गये। इन आंकड़ों के मुताबिक, JSCA स्टेडियम में खाने का बिल तीन लाख 17 हजार 625 रुपये का बना।

जबकि, बिरसा मुंडा एथलेटिक्स स्टेडियम में खाने पर 94 हजार 500 रुपये खर्च किये गये। वहीं, ट्रॉफी, मेडल और किट इक्विपमेंट पर एक लाख 62 हजार रुपये खर्च किये गये।

इतना ही नहीं, RTI के जवाब में मिले आंकड़े बता रहे हैं कि JSCA स्टेडियम में 12 ओवर के मैच के आयोजन में एक लाख 29 हजार रुपये तेल पर खर्च किये गये।

जवाब में विभाग की ओर से कहा गया है कि स्टेडियम में हाई मास्ट लाइट को जलाने के लिए जेनरेटर में इस तेल का इस्तेमाल किया गया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button