रांची सदर अस्पताल में बनेगा चाइल्ड डेडिकेटेड COVID वार्ड

रांची: रांची जिला प्रशासन कोविड-19 संक्रमित मरीजों के इलाज की व्यवस्था में अपनी तैयारी और पुख्ता करने में जुट गया है।

जिले में अब चाइल्ड डेडिकेटेड कोविड वार्ड बनाने की तैयारी शुरु कर दी गयी है।

इसे लेकर मंगलवार को उपायुक्त छवि रंजन ने रानी चिल्ड्रेन हॉस्पीटल और फिर सदर अस्पताल का निरीक्षण किया।

इस दौरान उपविकास आयुक्त विशाल सागर, सिविल सर्जन विनोद कुमार सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

उपायुक्त छवि रंजन पहले रांची चिल्ड्रेन अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे। यहां उन्होंने बच्चों के इलाज के लिए की गयी व्यवस्था का जायजा लिया।

उपायुक्त ने आईसीयू, आईसीसीयू, एसडीसीयू के साथ बच्चों के कोविड वार्ड का भी निरीक्षण किया।

अस्पताल के डॉक्टरों से उपायुक्त ने इलाजरत बच्चों के उपयोग में लाये जा रहे चिकित्सकीय उपकरणों एवं व्यवस्था के बारे में जानकारी ली।

डाक्टरों की ओर से उपकरणों के उपयोग और महत्व के बारे में उपायुक्त को जानकारी दी गयी।

सीपैप की कार्यप्रणाली की जानकारी ली

उपायुक्त ने रानी चिल्ड्रेन अस्पताल में बच्चों के इलाज के लिए उपयोग में लाये जा रहे सीपैप की कार्यप्रणाली की जानकारी ली।

किन हालातों में सीपैप का इस्तेमाल किया जाता है, इंस्टॉलेशन आदि के बारे में डाक्टरों की टीम के साथ उपायुक्त ने विचार विमर्श किया और सदर अस्पताल में इसकी व्यवस्था को लेकर सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा निदेश दिये।

सदर अस्पताल का निरीक्षण

रानी चिल्ड्रेन अस्पताल में बच्चों की इलाज की व्यवस्था का जायजा लेने के बाद उपायुक्त जिला कोविड हेल्थ सेंटर (सदर अस्पताल) पहुंचे।

सीईओ सदर अस्पताल गरिमा सिंह, डीडीसी रांची, सिविल सर्जन, रांची और पदाधिकारियों के साथ उपायुक्त ने चाइल्ड डेडिकेटेड कोविड वार्ड बनाये जाने को लेकर अस्पताल का निरीक्षण किया।

उपायुक्त ने सदर अस्पताल के विभिन्न फ्लोर का निरीक्षण किया। चाइल्ड डेडिकेटेड कोविड वार्ड बनाये जाने को लेकर उपायुक्त ने उपलब्ध आधारभूत संरचना और किये जाने वाली तैयारी को लेकर सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

कार्ययोजना तैयार करने का निदेशनिरीक्षण के बाद उपायुक्त ने बताया कि अस्पताल में कुछ जगह खाली हैं, जिसे चाइल्ड वार्ड में कन्वर्ट किया जा सकता है।

उपायुक्त ने अस्पताल में 40-60 बेड को लेकर कार्ययोजना तैयार करने का निदेश सिविल सर्जन को दिया।

उन्होंने कहा कि आनेवाले दिनों में बच्चों के कोरोना प्रभावित की आशंका को देखते हए सदर अस्पताल में ऑक्सीजन सर्पोटेड बेड, आइसीयू, पाइपलाइन सपोर्टेड ऑक्सीजन बेड आदि की तैयारी को लेकर कार्ययोजना तैयार करने का निदेश दिया गया है।

ट्रेंड की जायेगी नर्सें

सदर अस्पताल रांची में चाइल्ड डेडिकेटेड कोविड वार्ड और आइसीयू में कार्य के लिए स्किल्ड नर्सों की आवश्यकता होगी। इसे लेकर नर्सों को प्रशिक्षित किया जायेगा। अलग अलग फेज में इन्हें रानी चिल्ड्रेन अस्पताल के डाक्टर से समन्वय स्थापित कर प्रशिक्षित किया जायेगा।

नर्सों से मिले उपायुक्त, हौसला बढ़ाया

सदर अस्पताल के निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने कोविड वार्ड में बेहतर कार्य करनेवाली नर्सों और टेक्नीशियन से मुलाकात की। सभी की हौसला अफजाई करते हुए उपायुक्त ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में आपका कार्य सराहनीय है, आगे भी इसी कर्तव्यनिष्ठा के साथ कार्य करें।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button