रांची सदर अस्पताल में कर्मचारियों ने किया विरोध प्रदर्शन

रांची: रांची के सदर हॉस्पिटल में कोरोना ड्यूटी के लिए प्रतिनियुक्ति पर आए दो कर्मचारियों शैलेंद्र भारद्वाज और संजय सिंह को उनके पूर्व स्थान पर भेजे जाने से अस्पताल के कर्मचारी आक्रोशित हैं।

अस्पताल के परमानेंट और आउटसोर्सिंग पर काम कर रहे कर्मचारियों ने सोमवार को सदर अस्पताल के सिविल सर्जन कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन भी किया।

कर्मचारियों का कहना है कि दोनों ही कर्मचारियों के सदर अस्पताल में प्रतिनियुक्ति से काम सुचारू ढंग से चल रहा था। उनके जाने से काम अव्यवस्थित हो गया है।

सदर अस्पताल के कर्मचारियों द्वारा काम ठप करने की वजह से शहर के विभिन्न जगहों पर कोरोना टेस्टिंग का काम प्रभावित हो गया है।

सदर अस्पताल के कर्मचारी संजय कुमार ने कहा कि दोनों की प्रतिनियुक्ति से बेहतर मैनेजमेंट के साथ काम हो रहा था। उनके जाने से काम प्रभावित होगा। इस कारण आज हम लोगों ने काम ठप कर दिया है।

जानकारी के अनुसार कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच संजय सिंह और शैलेंद्र भारद्वाज को सदर अस्पताल में प्रतिनियुक्त पर लाया गया था।

शैलेंद्र भारद्वाज कांके ब्लॉक में पोस्टेड थे जबकि संजय सिंह रातू ब्लॉक में पोस्टेड थे। दोनों ही टीबी। डिपार्टमेंट में कार्यरत हैं।

इस संबंध में सदर अस्पताल के सिविल सर्जन विनोद कुमार ने कहा कि कर्मचारी पहले से जिस जगह पर पदस्थापित थे उन्हें वहां भेजा गया है।

टीबी का काम पूरी तरह से प्रभावित हो रहा था। इस संबंध में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता से बातचीत की जाएगी। उसके बाद आगे क्या करना है, यह बताया जाएगा।

Back to top button