सिमडेगा मॉब लिंचिंग मामला : संजू प्रधान की पत्नी ने राज्यपाल से लगायी न्याय की गुहार

रांची: सिमडेगा में संजू प्रधान मॉब लिंचिंग मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। संजू प्रधान की पत्नी ने मंगलवार को न्याय के लिए राजभवन में गुहार लगाई है।

भाजपा विधायक अमर कुमार बाउरी के साथ संजू प्रधान की पत्नी ने राज्यपाल रमेश बैस से मुलाकात की। सपना देवी ने राज्यपाल को घटना की विस्तृत जानकारी दी।

उसने बताया कि कैसे भीड़ ने घर से निकाल कर उसके पति की पिटाई की और जिंदा जला दिया। उसने राज्यपाल से मामले की सीबीआई जांच कराकर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

राज्यपाल ने इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए न्याय दिलाने का आश्वासन दिया।

संजू प्रधान की पत्नी ने कहा कि सुनियोजित तरीके से भीड़ उसके घर पहुंची और उसके पति को बाहर निकाला और फिर उनकी लाठी-डंडे पत्थर से पिटाई की।

जब संजू प्रधान पिटाई से अधमरा हो गया, तो फिर उसे पास में बनी चिता पर लिटा कर जिंदा ही आग के हवाले कर दिया गया।

पूरी घटना को उसने अपनी आंखों के सामने देखा और पुलिस से पति को बचाने के लिए मिन्नतें करती रही, लेकिन पुलिस मूकदर्शक बनी रही।

उसने कहा कि अब उसका पुलिस के ऊपर से भरोसा उठ गया है, इसलिए राजभवन का दरवाजा खटखटाया है।

मौके पर अमर बाउरी ने कहा कि एक पत्नी के सामने उसके पति की हत्या कर दी जाती है और फिर उसके गर्भ में पल रहे दो महीने के बच्चे को भी नष्ट कर दिया जाता है।

यह सब उस वक्त होता है, जब पुलिस घटनास्थल पर मौजूद रहती है। लेकिन उनकी तरफ से मृतक को बचाने की कोई कार्रवाई नहीं की जाती।

उन्होंने इस पूरे मामले में पुलिस और वहां के विधायक की भूमिका पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि राजभवन ने इस पूरे घटनाक्रम को गंभीरता से लेते हुए मामले पर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है।

विधायक ने कहा कि हमें उम्मीद है कि राज्यपाल इस मामले पर हस्तक्षेप कर पूरे मामले की जांच सीबीआई से करवाने की हमारी मांग को जरूर पूरा करेंगे।

उल्लेखनीय है सिमडेगा में चार जनवरी को भीड़ ने संजू प्रधान को मारपीट कर जिन्दा जला दिया था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button