झारखंड

झारखंड में दिखेगा चक्रवाती तूफान ‘असानी’ का असर, झूम के बरसेंगे बदरा

बंगाल की खाड़ी में उठा "आसानी" चक्रवाती तूफान हुआ और मजबूत

रांची: मौसम विभाग के अनुसार झारखंड में चक्रवाती तूफान ‘असानी’ का कुछ जिलों में असर दिखने की संभावना है।

आने वाले 11 से 13 मई तक देवघर, धनबाद, दुमका, गिरिडीह, गोड्डा, जामताड़ा, पाकुड़, साहिबगंज, पूर्वी-पश्चिमी सिंहभूम, सिमडेगा और सरायकेला के अलावा रांची, खूंटी, रामगढ़, बोकारो, हजारीबाग और गुमला में क्लाउड बैंड के कारण बारिश होने की संभावना जताई जा रही है।

येलो अलर्ट जारी

केंद्र के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने मौसम का पूर्वानुमान लगाते हुए बताया कि चक्रवाती तूफान आसानी 10 मई को बंगाल की खाड़ी में उत्तरी आंध्र प्रदेश से आगे ओडिशा के समुद्री तट के करीब पहुंचेगा।

लेकिन तट के अंदर तक प्रवेश करने के बजाय बगल से आगे निकल जाएगा। जिसके कारण क्लाउड बैंड बनेगा।

इसलिए झारखंड में दक्षिणी उत्तर पूर्वी व मध्य भाग में 11 और 12 मई को मेघ गर्जन वज्रपात के साथ बारिश की संभावना हो सकती है। इसलिए झारखंड के इन इलाकों में येलो अलर्ट जारी किया गया है।

बंगाल की खाड़ी में उठा “आसानी” चक्रवाती तूफान हुआ और मजबूत

बंगाल की खाड़ी में बना “आसानी” चक्रवाती तूफान से पश्चिम बंगाल के समुद्री तटीय क्षेत्रों में बारिश हो रही है।

तेज हवाएं चल रही हैं। चक्रवाती तूफान लगातार मजबूत हो रहा है। यह जानकारी सोमवार को मौसम विज्ञान विभाग ने दी।

फिलहाल यह चक्रवात सोमवार सुबह करीब 8:00 बजे अंडमान निकोबार दीप समूह के पोर्ट ब्लेयर से 620 किलोमीटर उत्तर पश्चिम और आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम समुद्र तट से 640 किलोमीटर दक्षिण पूर्व, ओडिशा के पुरी समुद्र तट से 740 किलोमीटर दक्षिण दक्षिण पूर्व में स्थित था।

दोपहर में उमस, शाम में मौसम हुआ सुहाना

झारखंड के कई इलाकों में सोमवार को आसमान में आंशिक बादल छाए दिखाई दिए। सतही हवा का बहाव होता रहा।

दोपहर में जहां लोगों को उमस भरी गर्मी से परेशानी हुई, वहीं शाम में मौसम सुहाना हो गया। पिछले 48 घंटे में राज्य में सबसे अधिक बारिश नीमडीह में 17.4 मिमी दर्ज की गई।

इसके अलावा जमशेदपुर में 14.0, घाटशिला में 12.0, महेशपुर में 8.4 मिमी बारिश हुई।

राज्य में मेदिनीनगर को छोड़ शेष जिले का अधिकतम तापमान 35 से 40 डिग्री सेसि के अंदर कायम रहा।