लाइफस्टाइल

गर्मियों में होने वाले स्किन रैशेज से इस तरह मिलेगी राहत

परेशानियों की एक प्रमुख वजह है, पसीना

News groupe Whatsapp

लाइफस्टाइल: गर्मियों का मौसम में महिलाओं को त्वचा संबंधी कई परेशानियां शुरू हो जाती हैं। इन परेशानियों की एक प्रमुख वजह है, पसीना। पसीने से त्वचा में कई तरह के फंगल इंफेक्शन भी हो जाते हैं।

इससे रह-रहकर होने वाली खुजली से असहजता और बढ़ जाती है। बार-बार खुजाते रहने से त्वचा छिल जाती है व खरोंच के निशान तक पड़ जाते हैं, जो सूखने के बाद और ज्यादा दर्द पैदा करते हैं।

कई बार स्थिति इतनी खराब हो जाती है कि चलने व उठने-बैठने तक में बहुत दिक्कत होने लगती है।यह एक तरह की दाद या खुजली होती है।

सामान्यत यह उनके प्रजनन अंगों तक में भी फैल सकती है, जिसका समय रहते इलाज किया जाना बेहद जरूरी है हालांकि इसके लिए डॉक्टर की सलाह पर ही दवा लेनी चाहिये, जो एंटी फंगल ट्रीटमेंट के तहत कुछेक क्रीम, पाउडर आदि से जल्दी ठीक भी हो जाता है।

इसके अलावा आप कुछ घरेलू उपायों की मदद से भी इस प्रकार के फंगल संक्रमण से राहत पा सकती हैं।

1. मुल्तानी मिट्टी

कूलिंग इफेक्ट वाली मुल्तानी मिट्टी स्किन रैशेज से जल्दी राहत दिलाती है। स्किन रैशेज को दूर करने के लिए 1 टीस्पून मुल्तानी मिट्टी और 2 टेबलस्पून गुलाबजल को मिक्स करके लगाएं और सूखने के बाद धो लें। जब तक इस परेशानी से राहत ना मिले इसका नियमित इस्तेमाल करें।

2. दही

गर्मियों में दही स्किन के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इसे 10 मिनट रैशेज पर अप्लाई करें और फिर ठंडे पानी से धो लें। दिन में 2 बार इसका इस्तेमाल आपकी स्किन रैशेज की प्रॉब्लम को दूर कर देगा।

3. एलोवेरा के पत्ते

एंटी-बैक्टीरियल, कूलिंग और सूदिंग इफेक्ट वाली एलोवेरा जेल इस परेशानी को मिनटों में दूर कर देती है। इसके पत्तों को पीसकर प्रॉब्लम वाले एरिया पर सुबह-शाम लगाएं। आपकी स्किन रैशेज की समस्या कुछ समय में ही दूर हो जाएगी।

4. नीम के पत्ते

एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक प्रॉपर्टीज होने के कारण यह स्किन रैशेज की प्रॉब्लम को दूर करने में मदद करती हैं। इसका इस्तेमाल स्किन रैशेज को भी दूर करता है और इससे इंफेक्शन का खतरा भी नहीं रहता।

नीम के पत्तों को पीसकर लगाएं और सूखने के बाद ठंडे पानी से धो लें। कुछ दिनों तक ऐसा हर रोज करें।

5. गुलाबजल

गुलाबजल का इस्तेमाल त्वचा को हाईड्रेटड करता हैैै, जिससे आपको स्किन रैशेज, जलन और खुजली जैसी परेशानी से राहत मिलती है।

कॉटन की मदद से गुलाबजल को रैशेज वाली जगह पर लगाएं। गुलाबजल की एक बॉटल हमेशा अपने पर्स में भी रखें और स्किन रैशेज या जलन होने पर तुरंत इसे अप्लाई करें।

6. चंदन पाउडर

1 चम्मच चंदन पाउडर, चुटकीभर हल्दी और गुलाबजल मिलाकर प्रॉब्लम एरिया पर लगाएं और सूखने पर ठंडे पानी से धो लें। इसका नियमित रूप से इस्तेमाल आपकी स्किन रैशेज से लेकर खुजली, जलन की समस्या को दूर कर देगा।

7. इमली

धूप और प्रदूषण के कारण होने वाली स्किन रैशेज की प्रॉब्लम को दूर करने के लिए आप इमली का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए 100 मि.टी पानी में 30 ग्राम इमली गर्म करें।फिर इसमें आधा चम्मच हल्दी मिलाकर लगाएं और आधे घंटे बाद ठंडे पानी से धो लें। ऐसा हफ्ते में 3 बार करें।

8. कार्नस्‍टार्च

नहाने से पहले पानी में कार्नस्‍टार्च पाउडर मिक्स करें। इससे आपको रैशेज से आराम मिलेगा।

9. बेकिंग सोडा

रैशेज की समस्या को दूर करने के लिए आप बेकिंग सोडा का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए ठंडे पानी में बेकिंग सोडा और 1 कप ओटमील मिलाएं। इसके बाद इसमें प्रॉब्लम वाले एरिया को 10 मिनट के लिये डुबाएं और फिर ठंडे पानी से धो लें।

10. कपूर

रात को सोने से पहले 1 कपूर की टिक्की को पीसकर नारियल तेल में मिक्स करके लगा लें। सुबह ठंडे पानी से इसे साफ करें। नियमित रूप से इसका इस्तेमाल आपकी स्किन रैशेज की समस्या को दूर कर देगा।

इन्हें भी आजमाएं

गर्मी का मौसम ज्यादा नमी वाला और उमस से भरा होता है, जिसमें पसीना लगातार आता रहता है। इससे बचने के लिए आप कुछ आसान टिप्स आजमा सकती हैं।

जहां तक कोशिश हो ढीले, हल्के रंगों के सूती कपड़े ही पहनें, ताकि पसीना आने पर वह जल्दी ही सूख जाए और शरीर को हवा लगती रहे।

लंबे समय तक टाइट फिटिंग जींस या इसी प्रकार की अन्य ड्रेसेज पहने रखने से खासतौर से जांघों को हवा नहीं लग पाती और रैशेज हो जाते हैं।

इसी प्रकार अगर शॉर्ट ड्रेस पहन रही हैं, तो उसके नीचे साइकिलिंग शॉट्र्स जरूर पहनें।नहाने के बाद आप अपने जांघों वाले हिस्से और उसकी आस-पास की जगह को तौलिया से अच्छी तरह साफ कर लें।

ध्यान रखें कि इस दौरान इस्तेमाल किया जाने वाला तौलिया एकदम साफ हो और उसे आपके अलावा कोई और इस्तेमाल ना करता हो।
प्रभावित हिस्से के सूखने के बाद ही कोई तेल, क्रीम या कोई पाउडर लगाएं और फिर कपड़े पहनें।