झारखंड

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के प्रधान सचिव के नजदीकी विशाल चौधरी लापता: निशिकांत दुबे

ED की छापेमारी के बाद से लापता है विशाल चौधरी

रांची: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के प्रधान सचिव के नजदीकी विशाल चौधरी लापता है। भाजपा सांसद निशिकांत दुबे (Nishikant Dubey) ने गुरुवार को ट्वीट कर यह जानकारी दी है।

उन्होंने ट्वीट किया है, ‘जिसके यहां ED की छापेमारी में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सहित अन्य पदाधिकारी और राजनेता (politician) की लीलाओं का कारनामा उजागर हुआ वह विशाल चौधरी लापता हैं, कहीं उनकी हत्या तो नहीं हो गई ? बताया जा रहा है कि उनके साथ पत्नी भी लापता हैं।

विशाल चौधरी से ED की टीम कई दिनों तक पूछताछ की थी, जिसमें कई अहम जानकारी मिली थी।’

उल्लेखनीय है कि 24 मई को IAS पूजा सिंघल (Pooja Singhal) से जुड़े मामले में ED मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव समेत कई IAS और IPS अधिकारियों से नजदीकी संबंध रखने वाले विशाल चौधरी के ठिकाने से नकद के अलावा जमीन के कागजात, बैंक पासबुक समेत अन्य दस्तावेज छापेमारी में बरामद किया था। ED विशाल चौधरी को पूछताछ के लिये अपने साथ ले गयी थी।

टेंडर मैनेज का काम भी करता था विशाल

विशाल चौधरी फ्रंटलाइन कंपनी (Frontline company) के माध्यम से कौशल विकास कार्यक्रम और विनायका ग्रुप के माध्यम से अन्य कामकाज होता था।

विशाल चौधरी कोई भी अहम फैसला हो या ट्रांसफर-पोस्टिंग का काम हो, संचिका पहले अरगोड़ा चौक स्थित विशाल चौधरी के कार्यालय में जाती थी।

फिर, विशाल डील करता था। अंतिम रूप से नाम भेजे जाने के बाद ही किसी पदाधिकारी का पदस्थापन हो पाता था।

महत्वपूर्ण टेंडर भी मैनेज करने का काम विशाल करता था। इसी तरह हाल तक गृह विभाग की ट्रांसफर-पोस्टिंग में भी विशाल की चलती थी।

उसके कार्यालय में तमाम IPS, IAS अधिकारियों के नंबर, रिटायरमेंट की तिथि, वर्तमान पदस्थापन स्थल आदि की जानकारी थी।

छापेमारी में कुछ दस्तावेज मिले हैं, जिससे पता चलता है कि किसी ट्रैक मेन्यूफैक्चरिंग प्राइवेट लिमिटेड कंपनी (Track Manufacturing Private Limited Company) को रांची के आवासीय विद्यालय में बेड सप्लाई करने का काम मिला है।