भुईयां संघर्ष समिति ने जताया मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का आभार

खूंटी: अखिल भारतीय भुईयां संघर्ष समिति के सदस्यों ने भुईयां जाति की उपजातियों को अनुसूचित जाति में शामिल किये जाने की अनुशंसा करने पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के प्रति आभार प्रकट किया है।

साथ ही केंद्र सरकार से स्वीकृति के लिए अविलम्ब केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय को भेजने का आग्रह किया है।

ज्ञात हो कि हाल ही में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने टीआरआई की ओर से पेश प्रतिवेदन पर भुईयां जाति की उपजाति पाईकए खण्डित पाईकए कोटवारए प्रधानए मांझीए देहरी क्षत्रियए खण्डितभुईयां व गड़ाहीध्गरही उपजाति को भुईयां जाति में शामिल करते हुए अनुसूचित जाति में शामिल करने की अनुशंसा की है।

समाज के सदस्यों ने खूंटी के सांसद सह केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा से भी इस पर कार्रवाई करने का आग्रह किया है, ताकि वर्षों से उपेक्षित समाज के सदस्यों को सरकारी लाभ मिल सके।

आभार प्रकट करने वालों में प्रदेश अध्यक्ष गंगा सिंहए प्रवक्ता रामकृपाल प्रधानए रामशरण कोटवार रनिया प्रखंड अध्यक्ष सुखनाथ भुईयांए कृष्ण सिंहए दामोदर सिंहए दीपक भुईयां सहित रांची ए खूंटी, सिमडेगाए गुमलाए पूर्वी व पश्चिमी सिंहभूम और सरायकेला खरसावां के सदस्य शामिल हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button