कोरोना का असर, FPI ने मई में अब तक भारतीय बाजारों से निकाले 988 करोड़ रुपये

नई दिल्ली: कोरोना मामले बढ़ने से इकोनॉमिक रिकवरी प्रभावित होने की आशंका के कारण विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों यानी एफपीआई ने मई में अब तक भारतीय बाजारों से 12.39 करोड़ डॉलर की निकासी की है।

आंकड़ों के मुताबिक, एफपीआई ने मई के पहले चार सप्ताह में घरेलू पूंजी बाजार में 1,87,589.29 करोड़ रुपये लगाये, जबकि इसी दौरान 1,88,577.50 करोड़ रुपये निकाले भी।

इस तरफ एफपीआई ने 988.21 करोड़ रुपये यानी 12.30 करोड़ डॉलर की शुद्ध निकासी की है।

एफपीआई ने शुद्ध रूप से 44.68 करोड़ डॉलर के शेयर और 4.94 करोड़ डॉलर के डेट बेचे। वहीं, अन्य माध्यमों जैसे डेट-वीआरआर और हाइब्रिड में उन्होंने शुद्ध रूप से पूंजी लगाई।

गौरतलब है कि यह लगातार दूसरा महीना है जब एफपीआई ने बाजार से पूंजी निकाली है।

अप्रैल में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने शुद्ध रूप से 118.56 करोड़ डॉलर यानी करीब 8,836 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी की थी।

इससे पहले मार्च में एफपीआई ने भारतीय बाजारों में 17,304 करोड़ रुपये, फरवरी में 23,663 करोड़ रुपये और जनवरी में 14,649 करोड़ रुपये डाले थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button