धनबाद न्यायालय कर्मचारियों का हुआ कोरोना जांच

धनबाद: एक माह के अवकाश के बाद आज न्यायालय खुल गए। न्यायालय कर्मचारियों के कोरोना टेस्ट कराने के लिए सोमवार को स्थानीय सिविल कोर्ट में कोरोना जांच शिविर लगाया गया।

शिविर में समाचार लिखे जाने तक 185 कोर्ट कर्मचारियों का सैंपल लिया गया। सोमवार को सुबह से ही जांच के सिविल कोर्ट कर्मचारियों की लंबी कतार लग गई।

प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश बसंत कुमार गोस्वामी, प्रथम जिला एवं सत्र न्यायाधीश आलोक कुमार दुबे, प्रधान न्यायाधीश कुटुंब न्यायालय सत्यप्रकाश ने शिविर की जांच प्रक्रिया की मॉनिटरिंग की।

इस दौरान लोगों को शारीरिक दूरी का बनाए रखने की अपील की गई।

प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश बसंत कुमार गोस्वामी ने बताया कि न्यायालय के कर्मचारियों की कोरोना जांच के लिए शिविर लगाया गया है।

त्योहारों के कारण लोग भीड़भाड़ वाले जगहों पर रहे हैं, जिस कारण कोरोना संक्रमित होने की संभावना बढ़ गई है।

उन्होंने बताया कि सभी न्यायिक पदाधिकारियों अपनी जांच करवा चुके है और सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई।

उन्होंने आम लोगों से भी अपील करते हुए कहा कि लोग मास्क पहने और दो गज की दूरी का पालन करें।

उन्होंने इस काम के लिए जिला प्रशासन की भी सराहना की।

इस मौके पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी अर्जुन साव, अपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी शशि भूषण शर्मा, रेलवे के न्यायिक दंडाधिकारी गौरव खुराना, अवर न्यायाधीश अरविंद कच्छप समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button