भारत

एलजी शपथ ग्रहण समारोह में सही जगह सीट नहीं मिलने पर नाराज हुए डॉ हर्षवर्धन

रामनाथ कोविंद ने दो दिन पहले ही उनकी नियुक्ति का आदेश जारी किए थे

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद डॉ हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) दिल्ली के नए उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना के शपथ ग्रहण कार्यक्रम से नाराज होकर लौट गए।

शपथ ग्रहण समारोह में पूर्व केंद्रीय मंत्री को जिस स्थान पर बैठाया जा रहा था वह उससे संतुष्ट नहीं थे।

गौरतलब है कि दिल्ली के नवनियुक्त उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने गुरुवार को दिल्ली के 22वें उपराज्यपाल के तौर पर शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दो दिन पहले ही उनकी नियुक्ति का आदेश जारी किए थे।

समारोह स्थल से बाहर निकले और अपनी गाड़ी में बैठ कर चले गए

उपराज्यपाल के शपथ ग्रहण समारोह से बाहर जाते हुए डॉ हर्षवर्धन ने शिकायत भरे लहजे में कहा कि शपथ ग्रहण समारोह में संसद सदस्य के लिए 1 सीट तक नहीं रखी गई।

उन्होंने दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार को कहा, मैं उपराज्यपाल विनय सक्सेना को इस बारे में लिखूंगा।

अधिकारी उन्हें मनाने के लिए उनके पीछे पीछे गए लेकिन हर्षवर्धन नहीं रुके। वह समारोह स्थल से बाहर निकले और अपनी गाड़ी में बैठ कर चले गए।

जिस समय हर्षवर्धन नाराज होकर कार्यक्रमस्थल निकले उस समय शपथ ग्रहण कार्यक्रम शुरू नहीं हुआ था।