झारखंड के मर्दों को व्हाट्सएप पर ऐसे ‘हनी ट्रैप’ में फंसा रहे साइबर अपराधी, पुलिस बोली- सावधान रहें

ये लोग पहले तो लड़कियों के नाम पर व्हाट्सएप पर मेसेज भेजते हैं। इस मेसेज में वे दोस्ती का प्रस्ताव रखते हैं

हजारीबाग: अगर आपके व्हाट्सएप पर किसी अनजान लड़की का मेसेज आये और आपसे दोस्ती करने में दिलचस्पी दिखाये, तो सावधान हो जाइये।

ऐसी दोस्ती आपको बहुत महंगी पड़ सकती है। आप ‘हनी ट्रैप’ के शिकार हो सकते हैं और उसके बाद आपको ब्लैकमेल करके आपसे मोटी रकम ऐंठी जा सकती है।

दरअसल, साइबर अपराधी इन दिनों झारखंड के पुरुषों को अपना शिकार बना रहे हैं। ये लोग पहले तो लड़कियों के नाम पर व्हाट्सएप पर मेसेज भेजते हैं।

इस मेसेज में वे दोस्ती का प्रस्ताव रखते हैं। रिस्पॉन्स मिलने पर ये लोग लड़की से अपने शिकार को वीडियो कॉल कराते हैं, जिसमें वह लड़की न्यूड हो जाती है।

झारखंड के मर्दों को व्हाट्सएप पर ऐसे ‘हनी ट्रैप’ में फंसा रहे साइबर अपराधी, पुलिस बोली- सावधान रहें

उत्तेजना में पुरुष भी वीडियो में न्यूड हो जाते हैं या ‘ऐसी-वैसी’ हरकत करने लग जाते हैं

उत्तेजना में पुरुष भी वीडियो में न्यूड हो जाते हैं या ‘ऐसी-वैसी’ हरकत करने लग जाते हैं। लड़की से हो रहे इस न्यूड वीडियो कॉल को साइबर अपराधी एक के जरिये रिकॉर्ड कर लेते हैं और उसके बाद शुरू हो जाता है ब्लैकमेलिंग और पैसे ऐंठने का खेल।

साइबर अपराधी अपने शिकार से पैसों की मांग करने लग जाते हैं और धमकी देते हैं कि अगर पैसे नहीं दिये, तो उसका वह न्यूड वीडियो वे लोग वायरल कर देंगे।

हजारीबाग शहर के कई रईसजादे, बैंक कर्मी, व्यापारी और युवक इन साइबर अपराधियों के शिकार हो चुके हैं।

हालांकि, कई लोग अपनी इज्जत बचाने की खातिर अपने साथ हुई ऐसी घटना के बारे में किसी को नहीं बताते हैं। पुलिस को भी नहीं। हाल ही में मटवारी का एक युवक ऐसे ही एक ‘हनी ट्रैप’ में फंस गया था।

झारखंड के मर्दों को व्हाट्सएप पर ऐसे ‘हनी ट्रैप’ में फंसा रहे साइबर अपराधी, पुलिस बोली- सावधान रहें

ऐसी घटनाओं के मद्देनजर सदर एसडीपीओ महेश प्रजापति ने आम लोगों से अपील की है कि वे सावधान रहें।

अगर कोई साइबर अपराधियों के इस ‘हनी ट्रैप’ में फंस जाता है, तो उसे चाहिए कि पुलिस को इसकी सूचना दे। उन्होंने आश्वस्त किया है कि पुलिस ऐसे पीड़ित व्यक्तियों की गोपनीयता और इज्जत का पूरा ख्याल रखेगी। पीड़ित की सूचना को गोपनीय रखते हुए मामले में त्वरित कार्रवाई की जायेगी।

दर एसडीपीओ ने अपील की है कि व्हाट्सएप पर अपरिचित नंबर से चैटिंग के लिए मैसेज आये, तो उसका जवाब देने से परहेज करें। अगर वीडियो कॉल आता है, तो अपने मोबाइल का कैमरा ऑन नहीं करें।

फेसबुक पर आनेवाले लाइव चैट के विज्ञापन से भी बचें। वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल किया जाये, बिना संकोच किये, बिना हिचकिचाये तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दें, ताकि पुलिस समय रहते कार्रवाई कर सके।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button