COVID-19 टीकाकरण में देश के टाॅप शहरों में रांची

रांची: रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने सोमवार को जिलास्तरीय कोविड-19 टास्क फोर्स की वर्चुअल मीटिंग की।

बैठक में उपायुक्त ने जिले में कोविड टीकाकारण और कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए गठित विभिन्न कोषांगों के कार्यों की समीक्षा की।

इस दौरान उन्होंने संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निदेश दिये। बैठक में उपायुक्त ने जिला में चल रहे टीकाकरण कार्य की प्रखंडवार जानकारी ली।

उपविकास आयुक्त विशाल सागर ने बताया कि रांची जिला में टीकाकरण कार्य बेहतर तरीके से चल रहा है।

टीकाकरण के मामले में देश के टाॅप शहरों में रांची है, वैक्सीन के जितने डोज जिला को उपलब्ध कराये जा रहे हैं उनका लाभ जल्द से जल्द लोगों को मिल रहा है।

उन्होंने केन्द्रों पर टीकाकरण कार्य की शुरुआत ससमय सुनिश्चित करने का निदेश दिया। डीडीसी ने कहा कि मोबाइल वैन के माध्यम से कहां-कहां वैक्सीनेशन किया जाना है।

संबंधित बीडीओ और एमओआईसी इसकी जानकारी दें, उन्होंने मनरेगा साइट पर भी मोबाइल वैन के माध्यम से वैक्सीनेशन कराने का निदेश दिया।

साथ ही रांची जिला प्रशासन वैक्सीनेशन सेंटर को माॅडल वैक्सीनेशन सेंटर बनाने की दिशा में भी प्रयासरत है।

बैठक के दौरान उपायुक्त को उपविकास आयुक्त ने बताया कि टीकाकरण केन्द्रों पर व्हील चेयर की सुविधा जल्द उपलब्ध करायी जायेगी, ताकि बुजुर्गों और निःशक्तों को आसानी हो।

उन्होंने संबंधित पदाधिकारियोें को इस संबंध में आवश्यक दिशा निदेश दिये।

कोविड-19 जांच की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने कोषांग के नोडल पदाधिकारी से आरटीपीसीआर, आरएटी और ट्रूनाॅट टेस्ट के बारे में जानकारी ली। उन्होंने सैंपल कलेक्शन बढ़ाने के साथ जांच में तेजी लाने का निदेश दिया।

उपायुक्त ने जिले के विभिन्न प्रखंडों में ट्रूनाॅट मशीन से जांच की क्या स्थिति है, इसकी रिपोर्ट एडीएम लाॅ एंड ऑर्डर को उपलब्ध कराने का निदेश दिया।

इसके अलावा एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड पर आनेवाले यात्रियों के जांच को लेकर उपायुक्त ने एसडीओ रांची से जानकारी ली।

एसडीओ द्वारा बताया गया कि अलग-अलग शिफ्ट में विभिन्न टीम के माध्यम से सैंपल कलेक्शन और जांच का काम किया जा रहा है।

उपायुक्त ने जांच के लिए टीम बढ़ाने का निदेश संबंधित पदाधिकारी को दिया।

बैठक के दौरान जिला के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में पीएसए प्लांट अधिष्ठापित किए जाने की समीक्षा भी उपायुक्त द्वारा की गई।

एलएमओ टैंक और पीएसए प्लांट के संचालन को लेकर उपायुक्त ने जल्द से जल्द तैयारी पूरी करने का निदेश दिया।

काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग सेल के कार्यो की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने यह सुनिश्चित करने का निदेश दिया कि कोषांग के सभी कार्य सही से हो रहे हैं, उन्होंने पाॅजिटिव मरीजों का इलाज अस्पताल में ही सुनिश्चित कराने का निदेश दिया।

उपायुक्त ने अन्य कोषांगों के कार्यों की भी समीक्षा करते हुए संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निदेश दिये।

वर्चुअल बैठक में उपायुक्त ने पीएम किसान योजना के लाभुकों को केसीसी से आच्छादित किये जाने को लेकर भी प्रखंडवार समीक्षा की।

सभी बीडीओ से उन्होंने बारी-बारी प्राप्त आवेदन और बैंकों को भेजे गये आवेदनों की जानकारी ली।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button